वाह रे सुशासन! बिहार के समस्तीपुर में अपराधियों ने थानाध्यक्ष की गोली मार कर की हत्या ,छापेमारी के दौरान घटी घटना

 वाह रे सुशासन! बिहार के समस्तीपुर में अपराधियों ने थानाध्यक्ष की गोली मार कर की हत्या ,छापेमारी के दौरान घटी घटना

समस्तीपुर- बिहार में अपराधियों के हौसले किस कदर बुलंद हैं इसका ताजा उदाहरण है समस्तीपुर की घटना जहां अपराधियों नें थानाध्यक्ष की मार कर हत्या कर दी है.

बता दें अपराधियों ने मोहनपुर थानाध्यक्ष  नंदकिशोर यादव को गोली को मार दी थी, जिनकी इलाज के दौरान मौत हो गई. अपराधी अब पुलिस को भी निशाना बनाने से नहीं चूक रहे है.जिलें में छापेमारी के दौरान मोहनपुर ओपी थानाध्यक्ष को अपराधियों ने गोली मार दी.

इस संबंध में समस्तीपुर एसपी ने बयान जारी करते हुए कहा है कि यह बड़ी दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. पिछले 1 हफ्ते से मोहनपुर थाना क्षेत्र में देखा जा रहा था कि लगातार भैंस चोरी की घटनाएं घट रही हैं.

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इसे देखते हुए एसएचओ मोहनपुर नंदकिशोर जी लगातार चोरी को रोकने का काम कर रहे थे. इस संबंध में जांच के दौरान पता चला कि नालंदा का एक गैंग मवेशी चोरी का काम कर रहा है. कुछ मोबाइल नंबर भी सामने आया था .मोबाइल नंबर के आधार पर उन्होंने जांच की प्रक्रिया शुरू की तो उन्हें पता चला कि कुछ मवेशी तस्कर थाना क्षेत्र में आए हुए हैं और वे एक बार फिर से मवेशी चुराने की काम में लगे हुए हैं. इसके बाद छापेमारी कर उन्होंने तीन चोरों को पकड़ा एक ट्रक और एक पिक अप वैन  भी पकड़ा गया. उसे थाना लेकर गए पूछताछ की पूछताछ के बाद कुछ और गैंग मेंबर्स के बारे में जानकारी मिली .जानकारी मिलने के बाद बाकी गैंग मेंबर्स को पकड़ने के लिए गए और उसी क्रम में घटना घटी है. बताया जा रहा है कि जब यह छापेमारी करने गए तो उस समय 8 से 10 मवेशी चोर वहां मौजूद थे इस समय जब उन्हें पकड़ने की कोशिश की गई तो अपराधियों ने उन्हें सर में गोली मार दी ।उनकी हालत नाजुक है उनका इलाज चल रहा है.

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि एक चोर को पकड़ लिया गया है उससे पूछताछ की जा रही है. इसके साथ ही अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है.  उन्होंने बताया कि  मोहनपुर थाना अध्यक्ष का हालत नाजुक है. उनके बेहतर इलाज की व्यवस्था की गई है. पुलिस अधीक्षक के अनुसार थानेदार के आंख के उपर गोली लगी है.

बिहार में हाल के दिनों में क्राइम की घटनाओं में इजाफा देखा जा रहा है. मर्डर, हत्या और दुष्कर्म की घटनाएं ज्यादा संख्या में दर्ज की जा रही हैं.  

Find Us on Facebook

Trending News