वाह रे शराबबंदी ! दिव्यांग लड़की की नशे में अपराधियों ने लूटी अस्मत, अब हुजूर की तरफ से इज्जत का सौदा भी कर दिया गया, जागिए सरकार...

वाह रे शराबबंदी ! दिव्यांग लड़की की नशे में अपराधियों ने लूटी अस्मत, अब हुजूर की तरफ से इज्जत का सौदा भी कर दिया गया, जागिए सरकार...

डेस्क...  एक तो सुशासन ऊपर से शराबबंदी का शिगूफा, फिर भी न हत्याओं का सिलसिला अबाध ढंग से जारी है तो दूसरी तरफ शराबबंदी भी ठेंगे पर है। अब तो नशे की हालत में अपराधी औरतों की इज्जत पर भी हाथ डाल रहे हैं। चूकि, पुलिस हाथ पर हाथ रख कर बैठी है। सरकार के नुमाईदें और उसके मुखिया इन घटनाओं से मरमाहत होते हैं। बड़े-बड़े आदेश दिए जाते हैं, लेकिन कुछ ही छणों में गुंडों के द्वारा इन आदेशाें की धज्जियां उड़ा दी जाती है। अब जरा देखिए कि शराबबंदी वाले राज्य में शराब के नशे में अपराधियों ने एक मूकबधिर लड़की की पहले तो अस्मत लूटी और फिर साक्ष्य छुपाने के लिए उसकी दोनों आंखें फोड़ दी। अब हुजूर की तरफ से इज्जत का सौदा किया गया। 

जानिए पूरा मामला

बिहार के मधुबनी जिले में हरलाखी थाना क्षेत्र में मंगलवार को करीब 10.00 बजे मानवता को शर्मसार करने वाली सामूहिक दुष्कर्म मामले में पुलिस ने पीड़ित लड़की के भाई के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली है। प्राथमिकी में तीन को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। गिरफ्तार तीनों आरोपी की पहचान थाना क्षेत्र के बरही गांव निवासी लक्ष्मी मुखिया, कृष्णा मुखिया और लक्ष्मीपुर गांव निवासी राम अवतार मुखिया के रूप में हुई है।

बेनीपट्टी एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि घटना की जांच को लेकर बेनीपट्टी सर्किल इंस्पेक्टर के नेतृत्व में एक टीम तैयार की गई थी। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि घटना के समय तीनों शराब का सेवन किए हुए थे। घटनास्थल से पुलिस ने शराब की बोतलें भी बरामद की है। वहीं घटना स्थल से लड़की के फटे हुए कपड़े और जिस लकड़ी से आंख फोड़ी गई है। वह लकड़ी बरामद की गई है। एसपी डाॅ. सत्य प्रकाश ने बताया कि स्पीड ट्रायल के तहत गिरफ्तार आरोपी को सजा दिलाई जाएगी। वहीं पीड़िता को सरकार की ओर मिलने वाले मुआवजे के लिए भी पहल की गई है।

एफएसएल की डायरेक्टर  ने किया निरीक्षण 

सामूहिक दुष्कर्म मामले में जांच करने एफएसएल मुजफ्फरपुर की डायरेक्टर अंबालिका त्रिपाठी के नेतृत्व में टीम हरलाखी थाना पहुंची। एफएसएल टीम की डायरेक्टर ने सभी पहलुओं की जानकारी ली। उन्होंने घटनास्थल पर बरामद सभी सामान की बारीकी से जांच की। इसके बाद डायरेक्टर ने घटनास्थल का मुआयना भी किया। डायरेक्टर ने बताया कि घटना से जुड़ी सभी वस्तुओं का सैंपल लिया गया है। 

मामले में राज्य निशक्तता आयुक्त देंगे ज्ञापन 

हरलाखी  थाना क्षेत्र में नाबालिग के साथ हुए कथित गैंगरेप मामले में जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंच राज्य निशक्तता आयुक्त को ज्ञापन सौंपेगा। साथ ही पुलिस अधीक्षक से मिलकर त्वरित न्याय के लिए मांग पत्र सौंपा गया है। यह जानकारी संस्था के संरक्षक मुकेश पंजियार ने दी। मुकेश पंजियार ने बताया कि मामले की जितनी भर्त्सना की जाए वह कम है। उन्होंने कहा कि मामले का अनुसंधान अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी करें व स्पीड ट्रायल से दोषियों को कठोर सजा दिलाई जाए।

पटना से मदन कुमार की रिपोर्ट...


Find Us on Facebook

Trending News