सालों पहले ही खत्म हो गई थी पटना के 18 स्कूलों की CBSE से मान्यता, फिर भी पैरेंट्स को धोखे में रखकर कर रहे संचालन

 सालों पहले ही खत्म हो गई थी पटना के 18 स्कूलों की CBSE से मान्यता, फिर भी पैरेंट्स को धोखे में रखकर कर रहे संचालन

PATNA : बिहार में प्राइवेट स्कूलों की मनमानी अब इस हद तक बढ़ चुकी है कि स्कूलों की सीबीएसई से मान्यता खत्म होने के बाद अपने संस्थान को मान्यता प्राप्त बताकर संचालित कर रहे हैं। राजधानी पटना में ऐसे 18 स्कूल बताए गए हैं। जिनकी मान्यता 2013-15 के बीच ही समाप्त कर दी गई थी। फिर भी यह सीबीएसई से सम्बद्धता प्राप्त का बोर्ड लगाकर अपने संस्थान को चला रहे हैं और छात्रों के परिजन से ऊंची फीस वसूल रहे हैं। 

कुछ दिन पहले ही यह बात सामने आई थी की सीबीएसई ने देश भर के 135 सम्बद्धता सालों पहले ही समाप्त कर दी थी, जिनमें 18 स्कूल सिर्फ पटना से जुड़े हैं। बताया गया इनमें से कई 10वीं और कई 12वीं कक्षा तक संचालित होनेवाले स्कूल हैं। 

पांच हजार से अधिक बच्चे पढ़ रहे इन स्कूलों में

बताया गया जिन स्कूलों की मान्यता रद्द की गई है, उन स्कूलों में फिलहाल 5000 से अधिक बच्चे पढ़ रहे हैं। चूंकि यह स्कूल खुद दसवीं और बारहवीं की परीक्षा नहीं दिला सकते हैं, ऐसे में यहां के छात्रों का दूसरे स्कूल से रजिस्ट्रेशन करवाया जाता है। चूंकि इस बार दो टर्म में दसवीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा हुई है। ऐसे में इन स्कूलों में चल रही गड़बड़ी भी सामने आ गई है। 

सारी डिटेल साइट पर

अब बोर्ड ने इन सभी स्कूलों की सूची अपने साइट पर डाल दी है। जिसके साथ पूरी डिटेल्स की भी जानकारी दी गई है। जिसमें स्कूल की मान्यता कब गई, कैसे गई, स्कूल का लोकेशन आदि शामिल है।

क्या है नियम

नियमानुसार, किसी स्कूल की सीबीएसई संबद्धता समाप्त हो जाती है, तो फिर वह स्कूल कहीं भी मान्यता प्राप्त नहीं लिख सकता है। लेकिन बिहार में यह स्कूल कई सालों से लोगों को गुमराह कर रहे हैं। इसके लिए बोर्ड ने जो टीम तैयार की है, वह इनकी जांच करेगी।


Find Us on Facebook

Trending News