सिवान में गला दबाकर युवक की हत्या, परिजनों में मचा कोहराम

सिवान में गला दबाकर युवक की हत्या, परिजनों में मचा कोहराम

सिवान. नबीगंज ओपी थाना क्षेत्र के खवासपुर में एक 30 वर्षीय युवक की गला दबाकर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है। दो दिन पूर्व ही गला रेतकर लकड़ी टोला के माधोपुर में 42 वर्षीय व्यक्ति की हत्या कर दी गयी था, जिसकी अभी गुत्थी सुलझी भी नहीं थी कि अपराधियों ने दूसरी घटना को अंजाम दे दिया, जो पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती बन गयी है। 

मिली जानकारी के अनुसार 7 वर्ष पूर्व ही युवक की शादी हुई थी, जिसकी एक पुत्री व 2 पुत्र बताए जा रहे हैं। रविवार शाम से ही युवक घर से गायब था। काफी खोजबीन के बाद भी नहीं मिला। परिजनों को कुछ समझ नहीं आया। सोमवार की सुबह भी खोजबीन शुरू हो गयी। युवक का शव नंदपुर पुल से 350 मीटर की दूरी पर दीघा चेवर में मिला है। बताया जा रहा है कि जहां युवक का शव बरामद हुआ, वहां मृतक का सगे पटीदार रामवचन रावत मछलीपालन करता है। युवक चार दिन पूर्व ही हरियाणा से अपने घर लौटा था। वह वहां पर सेंट्रिंग का कार्य कर अपने पूरे परिवार का जीविकोपार्जन करता था।

पांच भाइयों में सबसे बड़े होने के कारण घर सारा बोझ उसके ऊपर ही था तथा पूरे परिवार का भरण पोषण वहीं करता था। मृतक की पत्नी परमान्ती देवी, पांच वर्षीय पुत्री अंशिका कुमारी, तीन वर्षीय पुत्र देवराज कुमार व डेढ़ वर्षीय पुत्र अभिजीत राज का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं पिता ललन रावत माता सुभावती देवी का कहना है कि किसी के साथ उनकी दुश्मनी नहीं थी। फिर भी यह घटना कैसे हो गयी है। इसकी जानकारी उन्हें नहीं है न ही किसी पर शक है।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि उक्त जगह चेवर में शराब बनाई जाती है और पार्टियां चलती रहती है। जैसे कि लकड़ी टोले माधोपुर हुई हत्या के बारे में भी लोगों का कहना था, जहां युवक का गला रेत हत्या की गई थी। वहां भी शराब की पार्टियां चलती रहती थी। लेकिन पुलिस प्रशासन इस तरह की पार्टियों से अनजान है। वहीं ग्रामीणों का कहना था कि खवासपुर में शराब तैयार की जाती, लेकिन छापेमारी में पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं लगती कहीं ना कहीं प्रशासन की मिलीभगत से ही शराब का कारोबार फलफूल रहा है। ऐसी घटनाओं से ग्रामीण दहशत में आ गए हैं। इस तरह के हत्यारे शराब के नशे में ही हत्या कर रहे हैं और पुलिस के हाथों से बच रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News