2021 के आईएएस टॉपर शुभम को मिली पहली बड़ी चुनौती, बालू के कारोबार से जुड़े सबसे बड़े जिले में मिली पोस्टिंग

2021 के आईएएस टॉपर शुभम को मिली पहली बड़ी चुनौती, बालू के कारोबार से जुड़े सबसे बड़े जिले में मिली पोस्टिंग

PATNA : 2021 के आईएएस टॉपर शुभम कुमार की पहली पोस्टिंग हो गई है और उनकी पहली पोस्टिंग ऐसे जिले में की गई है, जो बालू के अवैध कारोबार के लिए बदनाम है। कुछ माह पहले ही वहां के एसपी, डीएसपी सहित कई प्रशासनिक अधिकारी के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई थी। शुभम की पहली पोस्टिंग औरंगाबाद जिले में दी गई है। यहां वह सहायक समाहर्ता सह सहायक दंडाधिकारी के रूप में काम करेंगे।

दस आईएएस को मिला था होम कैडर

पिछले साल आईएएस में सफल हुए बिहार के 10 दस अधिकारियों को होम कैडर मिला था। भारतीय प्रशासनिक सेवा (Indian Administrative Service) के जिन दस अधिकारियों को बिहार कैडर मिला है उनमें से पांच महिलाएं थी। बैच के इन अधिकारियों ने हाल ही में मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी (Lal Bahadur Shastri National Academy Of Administration) से व्यावसायिक पाठ्यक्रम चरण-1 का प्रशिक्षण पूरा किया है। जिसके बाद अब इन्हें जिले भी आवंटित कर दिए गए हैं। शुभम की तरह होम कैडर प्राप्त यह सभी आईएएस जिलों में सहायक समाहर्ता सह सहायक दंडाधिकारी के रूप में काम करेंगे।

इन जिलों में हुई पोस्टिंग

स में जो पांच महिला अधिकारी है उनमें शैलजा पांडेय को पटना, सारा अशरफ को मुजफ्फरपुर, अपूर्वा त्रिपाठी को नवादा, शिवाक्षी दीक्षित को पश्चिम चंपारण व निशा को वैशाली जिले में तैनात किया गया है। गया जिले में आकाश चौधरी, दरभंगा में सूर्यप्रताप सिंह, नालंदा में अनिल बसाक, पूर्वी चंपारण में प्रवीण कुमार तथा औरंगाबाद जिले में शुभम कुमार को पदस्थापित किया गया है।

बता दें कि शुभम कुमार यूपीएससी 2021 (UPSC 2021 Topper) के टॉपर हैं। मूल रूप से कटिहार के रहने वाले शुभम कुमार ने आइआइटी बाम्‍बे से सिविल इंजीनियरिंग में स्‍नातक की डिग्री हासिल की। इसके बाद वे यूपीएससी की तैयारी में जुट गए थे। 2018 में उन्‍होंने ठान लिया कि यूपीएससी करना है। इसके बाद उन्‍होंने इसकी तैयारी शुरू की और बिहार का नाम देशभर में रोशन कर दिया। वे यूपीएससी टाप करने वाले चु‍निंदा नाम में शा‍मिल हो गए।


 

Find Us on Facebook

Trending News