गिरिडीह में अपहृत व्यवसायी को महज 24 घंटे में पुलिस ने किया बरामद, 6 को किया गिरफ्तार

गिरिडीह में अपहृत व्यवसायी को महज 24 घंटे में पुलिस ने किया बरामद, 6 को किया गिरफ्तार

GIRIDIH : गिरीडीह जिले के द्वारपहारी बाजार से अपहृत इलेक्ट्रिक सह हार्डवेयर दुकानदार हिमांशु मंडल को  पुलिस ने महज 24 घंटे के अंदर बरामद कर लिया है. इस मामले में पुलिस ने 6 अपराधियों को भी गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है की पुलिस ने घटना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए हजारीबाग-चतरा के सीमावर्ती इलाका धर्मपूर गांव के बलिया जंगल से अपहृत हिमांशु को बरामद कर लिया. साथ ही अपहरण कांड में शामिल छह अपराधियों को भी गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के पास अर्टिगा कार समेत एक पिस्तौल व पांच मोबाइल भी बरामद किया है. 

अपराधी जा चुके हैं जेल

एसपी अमित रेणु और बिरनी एसडीपीओ विनोद महतो ने बताया कि फिरौती के लिए ही हिमांशु का अपहरण किया गया था. बता दें कि गिरफ्तार अपराधियों में चतरा जिला के पत्थराथान और बलिया गांव निवासी शशि साव व संजय पंडा के अलावे गिरिडीह के हीरोडीह थाना क्षेत्र के कठवारा गांव निवासी दीपक मंडल, जमुआ के चुगलो गादी निवासी अरविंद मंडल, बिरनी थाना के चिताखारो गांव निवासी सुकर मंडल और मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के महेशपुर गांव के बरमसिया टोला निवासी बिमल मंडल शामिल है. 

जिसमें शशि साव, दीपक मंडल पेशेवर अपराधी है. एसपी ने बताया कि शशि साव पहले भी सरिया थाना में डकैती कांड में तीन साल जेल की सजा काट चुका है. इसके बाद चतरा में सड़क लूट के मामले में नौ माह और धनबाद के कतरास में डकैती के मामले में आठ माह जेल की सजा काट चुका है. वहीं दीपक मंडल भी हीरोडीह में हुए हत्याकांड के मामले में साल 2015 से 2017 तक दो साल की सजा काट कर बाहर निकला था. 

तीन दिन रैकी के बाद दिया अपहरण की घटना को अंजाम

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में एक अपराधी ने पुलिस की वर्दी गिरिडीह बाजार में सात सौ रुपये में खरीदा था और इसी अपराधी ने हिमांशु को उसके दुकान से बाहर निकाल कर आर्टिगा वाहन में बैठाकर अपहरण किया. अपहरण की योजना को सफल करने के लिए गिरोह के दो अपराधियों ने लगातार तीन दिन तक रैकी किया था. अपहरण की घटना के बाद से ही एसडीपीओ विनोद महतो और पुलिस निरीक्षक रामनारायण चौधरी सक्रिय हो चुके थे. कारोबारी के सकुशल बरामदगी के लिए चार टीम का गठन किया गया था. अपहरण की घटना की रात अपहृत के भाई अमृत मंडल को लगातार फिरौती के लिए आ रहे फोन लोकेशन के आधार पर  शशि साव को अटका में गिरफ्तार किया गया. फिर उसके निशानदेही पर पांच अपराधियों को बलिया जंगल से गिरफ्तार करने के साथ ही हिमांशु को सकुशल बरामद किया गया. 

गिरिडीह से चन्दन पाण्डेय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News