'उदंड' SDPO ने SP से तल्ख तेवर में बोला- हम आपको फोन क्यों करेंगे? शिकायत के बाद DSP को मिला दंड

 'उदंड' SDPO ने SP से तल्ख तेवर में बोला- हम आपको फोन क्यों करेंगे? शिकायत के बाद DSP को मिला दंड

PATNA: बिहार के एक उदंड डीएसपी पर कार्रवाई की गई है. समस्तीपुर के पटोरी के तत्कालीन अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विजय कुमार जो वर्तमान में बीएमपी-9 जमालपुर में पदस्थापित हैं उनके खिलाफ गृह विभाग ने एक्शन लिया है. 15 जून 2018 में मोहिउद्दीन नगर में हुई एक घटना में तत्कालीन एसडीपीओ विजय कुमार को दोषी पाया गया है. इसके बाद गृह विभाग ने डीएसपी के खिलाफ निंदन के अलावे दो वेतन वृद्धि अवरुद्ध करने का दंड लगाया है.

गृह विभाग ने जारी किया आदेश

दरअसल, डीएसपी पर सांप्रदायिक तनाव एवं विधि व्यवस्था को कंट्रोल नहीं करने,घटनास्थल पर समय से नहीं पहुंचने, वरीय पदाधिकारियों को गलत सूचना देने, वरीय अधिकारी के आदेश की अवहेलना करने, एसपी के विरुद्ध अशोभनीय भाषा का प्रयोग करने, नेतृत्व क्षमता का अभाव, स्वेच्छाचारिता का आरोप था। इसी आरोप में डीएसपी विजय कुमार को दोषी पाया गया है। 15 जून 2018 को शव दफनाने को लेकर हुए विवाद के बाद तनाव की स्थिति हो गई थी. समस्तीपुर एसपी ने एसडीपीओ को तुरंत मौके पर जाने का आदेश दिया था.एसपी ने स्थिति को नियंत्रित करने को कहा था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया.

डीएसपी ने एसपी से कहा- हम आपको फोन क्यों करेंगे?

इस संबंध में जब समस्तीपुर के एसपी ने अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पटोरी विजय कुमार से पूछा कि आपने तुरंत इसकी सूचना हमें क्यों नहीं दी?  इस पर एसडीपीओ पटोरी ने उद्दंडता पूर्वक एवं अनुशासनहीनता के साथ जवाब दिया कि 'हम आपको दोबारा कॉल क्यों करेंगे जब स्थिति सामान्य है? जबकि स्थिति बिल्कुल ही उल्टा थी। एसडीपीओ के इस लापरवाह रवैये के खिलाफ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस मुख्यालय को रिपोर्ट किया था। इसके बाद डीजीपी ने गृह विभाग से कार्रवाई की सिफारिश कर दी। सबूत के बाद गृह विभाग ने विभागीय कार्यवाही संचालित करने का आदेश दिया और मुजफ्फरपुर के आईजी गणेश कुमार को संचालन पदाधिकारी नियुक्त किया गया था। आरोपी डीएसपी के स्पष्टीकरण को स्वीकार योग्य नहीं पाया गया। जाच में आरोप प्रमाणित पाये गए। इसके बाद निदंन व दो वेतन वृद्धि अवरूद्ध करने का दंड निर्धारित किया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News