फुलवारीशरीफ में आतंकी गतिविधियों में गिरफ्तार आरोपी के परिजनों से मिला भाकपा माले के विधायकों का दल, कहा- निर्दोषों को फंसा रही पुलिस

फुलवारीशरीफ में आतंकी गतिविधियों में गिरफ्तार आरोपी के परिजनों से मिला भाकपा माले के विधायकों का दल, कहा- निर्दोषों को फंसा रही पुलिस

पटना. भाकपा माले विधायकों का एक दल मंगलवार को फुलवारी शरीफ पहुंचा। फुलवारी पहुंचने के बाद उन्होंने आतंकी गतिविधि में शामिल होने के आरोपी गिरफ्तार युवकों के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान इन विधायकों ने सरकार एवं पुलिस प्रशासन के खिलाफ हमला बोला।

बताते चलें कि 11 जुलाई के बाद पुलिस ने फुलवारी शरीफ के भिन्न-भिन्न इलाकों से आतंकी गतिविधि के आरोप में चार युवकों को गिरफ्तार किया था, जबकि एक व्यक्ति को पुलिस लखनऊ से गिरफ्तार कर पटना लाई थी। पुलिस ने एक युवक मरगूब अहमद दानिश पर गजवा ए हिंद का सदस्य होने का आरोप लगाया है। पुलिस का दावा है कि मरगूब अहमद दानिश का तार पाकिस्तान सहित कई इस्लामिक कंट्री से जुड़ा है और वह व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर देश को तोड़ने की साजिश रच रहा था।

विधायक दल में फुलवारी शरीफ के विधायक गोपाल रविदास, विधायक महबूब आलम एवं पालीगंज के विधायक संदीप सौरव सहित भाकपा माले के कई वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल थे। बातचीत के क्रम में पाली विधायक संदीप सौरभ ने कहा कि पुलिस और सरकार मिलकर फुलवारी शरीफ का नाम बदनाम करना चाह रही है और यहां के निर्दोष युवकों को आतंकवादी करार दे रही है, जो बिल्कुल गलत और निराधार है।

उन्होंने कहा कि मरगूब अहमद दानिश के परिजनों से मिलने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि वह युवक मानसिक रूप से विक्षिप्त है और वर्ष 2019 से उसका इलाज पटना एम्स में चल रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि वह लड़का पटना से बाहर गया ही नहीं और ना ही आज तक उसका कोई पासपोर्ट बना है। फिर पुलिस के द्वारा उस पर झूठा आरोप विदेश में नौकरी करने की लगाई जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News