आर-पार की लड़ाई: मांझी ने अब मोदी सरकार को लपेटा, पूछा-जब चुनाव हो सकते हैं तो जनगणना से परहेज क्यों?

आर-पार की लड़ाई: मांझी ने अब मोदी सरकार को लपेटा, पूछा-जब चुनाव हो सकते हैं तो जनगणना से परहेज क्यों?

PATNA : बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी लगातार भाजपा नेताओं पर सवाल खड़े करते रहे हैं,  अब उन्होंने आरपार की लड़ाई का ऐलान करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को भी लपेट लिया है। कुछ दिन पहले बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने वैक्सीन सर्टिफिकेट पर पीएम की तस्वीर पर सवाल खड़े किए थे। मांझी ने इस पर आपत्ती जताते हुए कहा था कि इस पर राष्ट्रपति की तस्वीर लगानी चाहिए। अब मांझी ने एक बार फिर से पीएम के सामने नई मांगों का पुलिंदा प्रस्तुत कर दिया है। पूर्व सीएम ने देश में जनगणना में हो रही देरी पर सवाल उठाया है। मांझी ने कहा है कि जब देश में  चुनाव हो सकतें हैं तो जनगणना से परहेज़ क्यों?

मांझी ने वर्तमान स्थिति में देश की जनगणना आवश्यक बताया। उन्होंने कहा है कि कोरोना के कारण जनगणना कार्य को रोककर रखा गया है। लेकिन साथ ही यह सवाल भी उठाया है कि देश में जब चुनाव हो सकतें हैं तो जनगणना से परहेज़ क्यों किया जा रहा है। मांझी ने साफ इशारा किया है कि देश में जनगणना शीघ्र शुरू किया जाए। बता दें कि इस साल जनगणना का काम शुरू किया जाना था, लेकिन कोरोना के कारण फिलहाल इस पर रोक लगाई गई है।

तेजस्वी की मांगों का किया समर्थन

तीन दिन पहले राजद अध्यक्ष तेजस्वी यादव ने यह मांग की थी कि देश में जाति आधारित जनगणना शुरू की जाए। अब मांझी ने भी तेजस्वी की मांगों का समर्थन किया है। मांझी ने भारत सरकार से अनुरोध किया है कि 10 वर्षीय जनगणना के साथ-साथ जाति आधारित जनगणना अविलंब शुरू किया जाए।


Find Us on Facebook

Trending News