तो आखिर अब रिया चक्रवर्ती को आना होगा पटना, लगानी होगी गुहार

तो आखिर अब रिया चक्रवर्ती को आना होगा पटना, लगानी होगी गुहार

DESK: सुशांत सिंह राजपूत मौत की गुत्थी सुलझानें मे सीबीआई जुट गई है. एक-एक कर के उन सभी लोगों से पूछताछ की जा रही है, जिसपर सीबीआई को संदेह है. इन सब के अलावा सीबीआई नें एफआईआर की कॉपी पटना सिविल कोर्ट स्थित सीबीआइ के विशेष न्यायायिक दंडाधिकारी के कोर्ट में भेज दिया है. आपको बता दें कि इस एफआईआर में  रिया चक्रवर्ती  सहित छह के खिलाफ एफआइआर दर्ज किया गया था. वहीं खबर है कि इस मामले में सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया को सीबीआइ की गिरफ्तारी से बचने के लिए पटना में अग्रिम जमानत लेनी पड़ेगी.

अग्रिम जमानता लेने के लिए रिया को कोर्ट में याचिका दायर कराना होगा और इसके लिए वे कभी भी कोर्ट में याचिका दाखिल कर सकतीं हैं.यही नहीं नियमित जमानत के लिए रिया को पटना भी आना पड़ सकता है. गौरतलब है कि बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले पर सीबीआई जींच की मुहर लगा दी गई थी. इसके साथ बिहा में दायर एफआईआर को भी सुप्रीम कोर्ट ने सही बताया था.

सीबीआई जांच पर मुहर लगने के बाद से ही सभी लोग काफी ज्यादा खुश हैं और सभी को अब उम्मीद है कि सीबीआई जल्द से जल्द इस राज से पर्दा उठाएगी और सबको पता चल पआएगा कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत कैसे हुई है. गौरतलब है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को अपने मुंबई के बांद्रा वेस्ट स्थित फ्लैट में मृत पाए गए थे. बताया गया थआ कि उन्होंने डिप्रेशन में आकर सुसाइड कर लिया था लेकिन अब इसपर कई सारे सवाल उठे हैं. बहुत लोग को शक है कि सुशांत की हत्या हुई है.

इसी बात की आशंका जाहिर करते हुए  27 जुलाई को सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना के राजीव नगर स्थित थाना में रिया चक्रवर्ती सहित छह लोगों के खिलाफ नामजद एफआइआर दर्ज कराया था. केस की जांच के लिए मुंबई गई बिहार पुलिस की राह में मुंबई पुलिस ने भरसक रोड़ा अटकाया और महाराष्ट्र सरकार ने कोई सहयोग नहीं किया. सुशांत सिंह की मौत के मामले में बिहार सरकार द्वारा केंद्र से सीबीआइ जांच की सिफारिश की गई थी.केंद्र सरकार ने इस सिफारिश के आधार पर सीबीआइ जांच को स्‍वहकृति दी। फिर, छह अगस्त को सीबीआइ ने एफआइआर दर्ज किया था.


Find Us on Facebook

Trending News