एसिड अटैक सर्वाइवर लक्षमी अग्रवाल थी जॉबलेस, अक्षय कुमार बने उम्मीद की किरण

एसिड अटैक सर्वाइवर लक्षमी अग्रवाल थी जॉबलेस, अक्षय कुमार बने उम्मीद की किरण

N4N Desk: लक्षमी अग्रवाल जो कि एसिड एटैक पीड़ितों की पोस्टर गर्ल हैं, वो एक साल से जॉबलेस थीं, जिसके कारण उनकी आर्थिक स्थिति काफी कमज़ोर हो गई थी. उन्हें किराए के घर से भी निकाला जा रहा था कि तभी बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार उम्मीद की किरण बनकर आएं और उनके तरफ मदद का हाथ बढ़ाया. लक्षमी की एक छोटी सी बेटी है और उनका पति से अलग होने के बाद घर चलाना काफी मुश्किल हो गया था. आपको बता दें कि 2005 में एक व्यक्ति ने उनपर तेज़ाब फेककर हमला किया था. काफी सर्जरी कराने के बाद वो एसिड अटैक जैसे अपराध से लड़ने और चारों ओर जागरूकता बढ़ाने में जुट गई थीं. उन्हें अमेरिका की फर्सट लेडी मिशैल ओबामा द्वारा 2014 में सम्मानित भी किया गया था.

सामाजिक सारोकार फैलाने के लिए जाने जाते हैं अक्षय कुमार


बॉलिवुड अभिनेता अक्षय कुमार जोकि टॉयलेट बनवाना और महिलाओं की मासिक सेहत जैसी सामाजिक सारोकार फैलाने के लिए चर्चित हैं, उन्होंने अपने दयालु स्वभाव से एक बार और सबका दिल जीत लिया है. उन्होंने लक्षमी अगरवाल को 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देकर इसे एक काफी छोटा कॉन्ट्रिब्यूशन बताया. उन्होंने कहा कि लक्षमी को किराया न दे पाने और बच्ची को पौष्टिक भोजन न खिला पाने की वजह से तनाव नहीं लेना चाहिए और निडर होके गौरव के साथ जॉब ढूंढना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जब किसी व्यक्ति को आर्थिक मदद की ज़रूरत होती है तो मेडल, अवार्ड और सर्टिफिकेट किसी काम के नहीं होते. इसके बाद लक्षमी अग्रवाल को कई जॉब ऑफर्स एवं आर्थिक मदद मिलने लगी है.

Find Us on Facebook

Trending News