बिहार के इंजिनियरों का कमाल : लाखों की लागत से नदी पर पुल बनाया, दोनों तरफ एप्रोच बनाना भूल गए

बिहार के इंजिनियरों का कमाल :  लाखों की लागत से नदी पर पुल बनाया, दोनों तरफ एप्रोच बनाना भूल गए

ARARIA : बिहार सरकार के अधिकारियों के काम करने का तरीका कैसा है, इसकी एक बड़ी मिसाल अररिया जिले के पलासी क्षेत्र में देखी जा सकती है। जहां नदी में हर साल आनेवाली बाढ़ से लोगों को राहत मिल सके, इसके लिए नदी पर लाखों की लागत से एक पुल बना दिया गया। लेकिन काबिल इंजिनियर पुल के साथ एप्रोच रोड बनाना भूल गए। जिसके कारण पुल बनने के बाद भी लोग इसका लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। 

मामला पलासी प्रखंड के ब्रहकूम्बा पंचायत अंतर्गत कासत वार्ड -9 से जुड़ा है। जहां दस लाख की लागत से कासत नदी पर पुल तैयार किया गया, लेकिन पुल के दोनों तरफ एप्रोच मार्ग की व्यवस्था नहीं की गई। यहां पुलिया के एक तरफ थोड़ी सी मिट्टी डालकर छोड़ दिया गया और दूसरी तरफ तो ऐसे ही छोड़ दिया। बीच धार में बनी इस पुलिया पर पानी के तरह पैसे बहा दिए गए। स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी इस बात की चिंता नहीं हुई कि आखिर गांव के लोग बरसात के मौसम में गांव से बाहर कैसे निकलेंगे।

इस वार्ड के अर्जुन मंडल, सदानंद मंडल, प्रेमलाल मंडल, हरिहर मंडल, जागेश्वर मंडल आदि ने बताया कि तेज बारिश होगी तो कासत धार में पानी भर जाएगा। फिर इसके बाद लोगों के लिए नाव ही आवागमन का एकमात्र सहारा रह जाएगा। स्थानीय लोग बताते हैं कि यह पुलिया धार के करीब-करीब बीच में बना दी गई है। प्रशासन और नेताओं की कमीशनखोरी के चक्कर में इस साल भी इन इलाकों में रहनेवालों लोगों के लिए बाढ़ में लिए नाव ही आवागमन का एकमात्र सहारा रह जाएगा। स्थानीय लोग बताते हैं कि यह पुलिया धार के करीब-करीब बीच में बना दी गई है

Find Us on Facebook

Trending News