परियोजना कार्यालय के सामने धरना पर बैठी आंगनवाड़ी सेविका सहायिकाएं, बोली-जबतक मांग नहीं होगी पूरी, हड़ताल रहेगा जारी

परियोजना कार्यालय के सामने धरना पर बैठी आंगनवाड़ी सेविका सहायिकाएं, बोली-जबतक मांग नहीं होगी पूरी, हड़ताल रहेगा जारी

Arwal :  आंगनवाड़ी सेविका सहायिका अरवल प्रखंड मुख्यालय स्थित परियोजना कार्यालय पर अपने 17 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरना पर बैंठी हुई है। इनलोगों का कहना है कि जबतक उनकी मांगे पूरी नहीं हो जाती है उनका यह धरना जारी रहेगा।  

आंगनबाड़ी के जिला अध्यक्ष मीरा देवी ने बताया कि हम लोग को एक साल से कोई मानदेय नहीं दिया गया। इसलिए बिहार सरकार के खिलाफ 31 अगस्त से पूरे बिहार की आंगनवाड़ी सेविका सहायिका अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 में 40 दिन के हड़ताल के उपरांत मंत्री स्तरीय वार्ता में अतिरिक्त मानदेय की राशि में 50% बढ़ोतरी का लिखित समझौता हुआ था परंतु इसे अभी तक लागू नहीं किया  गया। 

मीरा देवी ने कहा कि कोरोना महामारी जैसी विकट परिस्थितियों में भी सेविका ने अपनी जान जोखिम में डालकर विभाग के कार्यों का निर्वहन किया। सरकार जो उन्हें  मानदेय राशि दे रही है उससे आंगनबाड़ी सेविका व सहायिकाओं का जीवन निर्वाह करना संभव नहीं है। हमारी सरकार से यह मांग हैं कि हम सभी आंगनवाडी सेविकाओं को सरकारी सेवा का दर्जा दिया जाए और मानदेय बढ़ोतरी किया जाए। जबतक हमलोगों की मांग पूरी नहीं होती है हम लोग कोई काम नहीं करेंगे।

अरवल से विश्वनाथ कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News