अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन पर गुलाम रसूल बलियावी का बयान, मेरी खुशी और गम का कोई मतलब नहीं

अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन पर गुलाम रसूल बलियावी का बयान, मेरी खुशी और गम का कोई मतलब नहीं

पटना : उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन कल यानी 5 अगस्त को भूमि पूजन किया जाएगा. इस दौरान पीएम मोदी को रामलला के दर्शन भी करेंगे. राम मंदिर के भूमि पूजन पर जेडीयू एमएलसी गुलाम रसूल बलियावी ने बड़ा बयान दिया है. 

जेडीयू एमएलसी गुलाम रसूल बलियावी ने कहा है कि राम मंदिर निर्माण में मेरी खुशी और गम का सवाल नहीं है. जब राम मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट में गया. और पूरी दुनिया ने फैसले को दिखा. जब साफ-साफ शब्दों में आइने की तरह रखने के बावजूद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया. तो किसी ने एतराज नहीं किया. सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा किया. और जिसने फैसला दिया उसको आपने क्या दिया, वो भी पूरी दुनिया ने देखा. 

धार्मिक एतबार से हिन्दुस्तान का हर व्यक्ति आजाद है. और यही आजादी देश की सुंदरता भी है और खूबसूरती भी है. इसलिए गम और खुशी का कोई मतलब नहीं है. अमन, चैन और भाईचारा बरकरार रहना चाहिए. रोटी, कपड़ा और मकान सबसे पहले होना चाहिए. और सबको मिलकर इस पर काम करना चाहिए. 

अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन का कार्यक्रम कल यानि पांच अगस्त को आयोजित किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसकी आधारशिला रखेंगे. इसका पूजन कार्यक्रम सोमवार से शुरू हो चुका है. 21 वैदिक आचार्यों ने सोमवार सुबह 9 बजे यजमान महेश भरतचक्रा को संकल्प दिलाते हुए पूजन किया. आज रामार्चा पूजा हो रही है, जिसे डॉ.रामानंद दास करा रहे हैं. प्रधानमंत्री के भूमिपूजन के दिन अयोध्या, मथुरा, काशी, दिल्ली के आचार्य पूजन कराएंगे.



Find Us on Facebook

Trending News