बलात्कार की शिकार दो छात्राएं बनी मां, नौ माह पहले हुआ था दुष्कर्म

बलात्कार की शिकार दो छात्राएं बनी मां, नौ माह पहले हुआ था दुष्कर्म

डेस्क...खबर गुमला सा आ रही है जहां जो बच्चियां अब तक खुद जीने का सलीका नहीं सीख पायीं, वे आज दुराचारियों के गुनाह की सजा भुगत रही हैं. मां होना क्या होता है, मां की जिम्मेदारियां क्या होती हैं, दुधमुंहे बच्चे को कैसे संभाला जाता है और उसकी परवरिश कैसे की जाती है, इन सवालों से अनजान गुमला की दो नाबालिग छात्राएं मां बन गयी हैं. नौ माह पहले दुष्कर्म का शिकार हुई इन लड़कियों ने 26 जनवरी को गुमला सदर अस्पताल में दो बच्चों (दोनों लड़के) को जन्म दिया है. 

समाज के तानों से बचने के लिए दोनों पीड़िता ने अपने बच्चों को सीडब्ल्यूसी को अपने संरक्षण में लेने की गुहार लगायी है, ताकि उनकी परवरिश अच्छी तरह से हो सके. दोनों बच्चियों का जिंदगी नरक बनानेवाले आरोपी फिलहाल जेल में हैं. लेकिन अब सवाल ये है की बिना बाप की इन बच्चों का क्या होगा कौन देगा अपना नाम और इन बेगुनाह छात्राओं का क्या दोष समाज के तानों से बचने के लिए दोनों पीड़िता ने अपने बच्चों को सीडब्ल्यूसी को अपने संरक्षण में लेने की गुहार लगायी है, ताकि उनकी परवरिश अच्छी तरह से हो सके. दोनों बच्चियों का जिंदगी नरक बनानेवाले आरोपी फिलहाल जेल में हैं.



Find Us on Facebook

Trending News