जयमाला से पहले बारातियों में शामिल दो युवक को अगवा कर धारदार हथियार से एक की कर दी हत्या, एक गंभीर रूप जख्मी

जयमाला से पहले बारातियों में शामिल दो युवक को अगवा कर धारदार हथियार से एक की कर दी हत्या, एक गंभीर रूप जख्मी

BANKA : चांदन थाना क्षेत्र के सिलजोरी पंचायत के बियाही गांव मे बीते रात्रि आये बरातियों को अग़वा कर जहाँ एक 17 वर्षीय युवक की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी। वहीं दूसरे को भी धारदार हथियार से गर्दन पर वार कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे चांदन पुलिस ने गांव के ही बगल में झाड़ियों के बीच से शव को बरामद कर अपने कब्जे में लेकर  पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया। मृतक युवक के परिजनों की निशानदेही पर पुलिस ने एक अपराधी के भाई ओर एक अपराधी के पिता को हिरासत मे ले लिया है। 

जानकारी के अनुसार  देवघर जिला के रिखिया थाना क्षेत्र के सतबेहड़ी गांव से बारात बियाही गांव  अशोक यादव के  पुत्री की शादी में आई थी। वर माला  का कार्यक्रम हो रहा था की सतबेहड़ी गांव निवासी 17 वर्षीय पवन कुमार यादव खून से लथ पथ सामियाना मे पहुंचा ओर लोगों को बताया कि रिखिया थाना क्षेत्र के  देवपुरा निवासी स्व दीनदयाल यादव के पुत्र सोनू कुमार व मुकेश कुमार ने एक अन्य युवक के साथ मिलकर मेरे गर्दन पर धारदार हथियार से वार कर जख़्मी कर दिया और संतोष यादव नामक एक युवक को हत्या करने कि नीयत से झाड़ी की तरफ ले गया है।  इतना कहते ही युवक बेहोश होकर गिर पड़ा। 


आनन फानन मे मौजूद बारातियों ओर सरातियों ने गंभीर रूप से जख्मी युवक को इलाज के लिए देवघर भेजकर संतोष यादव कि तलाश मे जुट गये। करीब दो घंटे कि खोजबीन के बाद भी ज़ब युवक का पता नहीं चला तब सुचना पर पहुंचे पंचायत के उप मुखिया शिबू यादव ने चांदन थाना को सूचित कर गायब युवक कि बरामदगी कि गुहार लगाई।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची चांदन पुलिस ने करीब 2 घंटे  खोजबीन के बाद युवक के मोबाइल लोकेशन के आधार पर बियाही बांध के करीब घनी झाड़ियों से उसकी लाश को बरामद किया गया। देवघर सदर अस्पताल मे इलाजरत  गंभीर रूप से जख्मी पवन यादव के फर्द बयान पर पुलिस घटना की प्राथमिकी दर्ज करने मे जुटी है ओर फर्द बयान मे बताये गये अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने सोनू यादव के भाई ओर विवेक यादव के पिता को हिरासत मे लेकर पूछताछ की जा रही है।

नाना के घर रहकर करता था पढ़ाई

मृतक युवक संतोष की माता का निधन काफ़ी पूर्व हो जाने के कारण उसकी देखभाल सतबेहड़ी  गांव निवासी उसके नाना पारण यादव व नानी लीला देवी कर रही थी, मृतक ने इसी वर्ष इंटरमिडीएट (साइंस )की परीक्षा पास कर बीए मे दाखिला लिया था और नाना के घर रहकर ही पढ़ाई कर रहा था। अंत्यपरीक्षण के बाद युवक का शव घर आते ही घटना से आक्रोशित परिजनों ने अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग करते हुए शव को बीच सड़क पर रखकर चांदन देवघर मुख्य सड़क मार्ग को कसई मोड़ के पास जाम कर दिया। 

घटना के बारे में एसडीपीओ प्रेमचंद सिंह ने बताया कि किसी बात को लेकर आपसी रंजिश के कारण यह घटना हुईं है। अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है। अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News