मनेर विधायक भाई वीरेंद्र के विरोध में उतरे पार्टी कार्यकर्त्ता, कैंडिडेट बदलने की उठी मांग

मनेर विधायक भाई वीरेंद्र के विरोध में उतरे पार्टी कार्यकर्त्ता, कैंडिडेट बदलने की उठी मांग

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव के नज़दीक आते ही एक तरफ़ जहाँ काम ना करने वाले विधायको को जनता खदेड़ रही हैं. वहीं राजद का गढ़ कहे जाने वाले पटना से सटे मनेर में पार्टी कार्यकर्ता दो गुटों में बंटे दिखाई दे रहे हैं. मनेर ब्लॉक परिसर के पास हुए विधानसभा क्षेत्र के प्रखंड स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में स्थानीय राजद विधायक का खुलकर विरोध हुआ. 

सम्मेलन में आए हज़ारों कार्यकताओं ने भाई वीरेंद्र को टिकट नहीं देने और मनेर से राजद का कैंडिडेट बदलने की पुरज़ोर माँग की. कार्यकर्ताओं ने इस खुले प्रखंड स्तरीय सम्मेलन में मनेर से भाई वीरेंद्र को छोड़ राजद के कैंडिडेट के तौर पर किसी नए चेहरे की माँग का प्रस्ताव पारित किया. 

कार्यकर्ताओं का आरोप था की राजद विधायक ने न बूथ स्तर पर कोई काम नहीं किया है और ना क्षेत्र के अंदर कोई विकास कार्य किया है. 

सम्मेलन में राजद विधायक पर विधायक फण्ड में कमीशनखोरी, कार्यकर्ताओं को अपमानित करने, लॉक डाउन और कोरोना काल में क्षेत्र से ग़ायब रहने जैसे कई गंभीर आरोप भी लगाए गए. उन्होंने कहा की पार्टी उनको टिकट देती है तो उनका विरोध किया जायेगा. 

पटना ग्रामीण से सुमित कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News