अब बिहार पुलिस मुख्यालय ने BMC को लिखा पत्र,IPS अधिकारी विनय तिवारी को मुक्त करने का आग्रह

अब बिहार पुलिस मुख्यालय ने BMC को लिखा पत्र,IPS अधिकारी विनय तिवारी को मुक्त करने का आग्रह

PATNA: सुशांत सिंह मामले में आइपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वॉरंटीन करने पर सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को फटकार लगाई है।पटना आईजी द्वारा आईपीएस अधिकारी को क्वारंटीन से मुक्त किए जाने का आग्रह बीएमसी खारिज कर चुका है। इसके बाद बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने मुंबई पुलिस पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को नहीं मानने का आरोप लगाया है। 

पटना आईजी के पत्र को खारिज किए जाने के बाद अब एडीजी पुलिस मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने बीएमसी को पत्र लिखा है.एडीजी ने बीएमसी के आयुक्त इकबाल सिंह चहल को पत्र लिख कर आईपीएस अधिकारी को क्वारंटीन से मुक्त करने का आग्रह किया है। पुलिस मुख्यालय ने दो पन्नों के पत्र में बीएमसी से पटना के सेंट्रल एसपी विनय तिवारी को क्वारंटीन से मुक्त करने की मांग की है. एडीजी हेडक्वार्टर ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने भी आईपीएस अधिकारी को होम क्वारंटीन किए जाने को आपत्तिजनक बताया है।

वहीं सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच के लिए मुंबई गई पटना पुलिस पुलिस की टीम वापस लौट आई है.केंद्र सरकार द्वारा सीबीआई जांच की अनुमति मिलने के बाद बिहार पुलिस के ऑफिसर वापस पटना लौट आए हैं। 1 सप्ताह पहले सुशांत केस की जांच करने बिहार के 4 पुलिस अधिकारी मुंबई गए थे. अब सुशांत केस को सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया है लिहाजा बिहार की पुलिस जांच स्थगित कर वापस लौट आई है. पटना पुलिस की टीम अब अपनी जांच रिपोर्ट एसएसपी उपेन्द्र शर्मा को सौंप दी है.टीम के सभी सदस्य आईजी संजय सिंह से भी मुलाकात की और जांच के संबध में जानकारी दी है.

Find Us on Facebook

Trending News