शीना बोरा हत्याकांड के मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी का बड़ा खुलासा, CBI को पत्र लिखकर कही- बेटी कश्मीर में जिंदा है

शीना बोरा हत्याकांड के मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी का बड़ा खुलासा, CBI को पत्र लिखकर कही- बेटी कश्मीर में जिंदा है

Desk. शीना बोरा हत्याकांड में इंद्राणी मुखर्जी ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. इंद्राणी मुखर्जी शीना बोरा की मां है, जो 2012 में उसकी हत्या के मामले में जेल में बंद है. करीब हत्या के 10 साल बाद इंद्राणी मुखर्जी ने जेल से केंद्रीय जांच एजेंसी को एक पत्र लिखा है. पत्र में इंद्राणी ने दावा किया है कि शीना बोरा जिंदा है और सीबीआई को उसे ढूंढना चाहिए. मुखर्जी ने अपने पत्र में लिखा कि शीना बोरा कश्मीर में जिंदा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पूर्व मीडिया कार्यकरी और शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई को लिखी चिट्ठी में बताया है कि जेल में उसे मिली एक महिला कैदी ने बताया है कि शीना बोरा से वो कश्मीर में मिली थीय इंद्राणी ने सीबीआई से जांच की मांग की है.

रायगढ़ के जंगल में मिला था शव

वहीं, इंद्राणी के वकील ने इस पूरी मामले पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया है. इंद्राणी के वकील का कहना है कि उन्होंने यह पत्र सीधा सीबाआई को लिखा है, जिस कारण उन्हें पता नहीं कि इस पत्र में किन किन बातों का कैसे जिक्र किया गया है. उन्होंने कहा कि वो जब जेल जाएंगे तब भी इंद्राणी से इस मामले की जानकारी जुटा पाएंगे. इस बीच सबसे बड़ा सवाल उठ रहा है कि अप्रैल 2012 में महाराष्ट्र के रायगढ़ के जंगल में आखिरी किसकी लाश मिली थी, जिसे सीबीआई ने भी शीना बोरा के शव होने की पुष्टि की थी.

फारेंसिक रिपोर्ट में शीना के शव की पुष्टि

रायगढ़ के जगंल में मिले लाश के अवशेष शीना बोरा के ही थे. इस बात की पुष्टि एम्स की फोरेंसिक रिपोर्ट ने भी की थी. यही रिपोर्ट सीबीआई को सौंपी गई थी. फोरेंसिक रिपोर्ट ने इस बात की तस्दीक कर दी थी कि रायगढ़ के जंगल में मिले शव के अवशेष शीना बोरा के ही थे. वहीं इंद्राणी मुखर्जी के खत ने जांच एजेंसियों की पड़ताल पर सवाल खड़े कर दिए हैं. अगर सीबीआई 2012 में शीना बोरा को मृत घोषित कर चुकी है, तो फिर कश्मीर में वह कौन लड़की है और रायगढ़ के जंगल में मिलने वाली लाश का अवशेष किसका है. 

जांच एजेंसियों की बढ़ी चिंता

इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई निदेशक को लिखे पत्र में दावा किया कि हाल ही में उसकी मुलाकात जेल में एक महिला से हुई, जिसने उसे बताया था कि वो कश्मीर में शीना बोरा से मिली. जेल में बंद महिला की बात में कितनी सच्चाई है यह तो कह पाना मुश्किल है, लेकिन इंद्राणी मुखर्जी के खत ने जांच एजेंसियों की पड़ताल पर सवाल खड़े कर दिए हैं. अगर सीबीआई 2012 में शीना बोरा को मृत घोषित कर चुकी है, तो फिर कश्मीर में वह कौन लड़की है और रायगढ़ के जंगल में मिलने वाली लाश का अवशेष किसका है. ऐसे में सीबीआई के सामने बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है. बता दें कि इंद्राणी 2015 से मुंबई की बायकुला जेल में बंद हैं.

Find Us on Facebook

Trending News