पंजाब में बड़ा उलटफेरः 'कैप्टन' ने CM पद से दिया इस्तीफा, कई सांसद इनके साथ, कहा- ‘सोनिया गांधी जिसे चाहें, सीएम बना दें’

पंजाब में बड़ा उलटफेरः 'कैप्टन' ने CM पद से दिया इस्तीफा, कई सांसद इनके साथ, कहा- ‘सोनिया गांधी जिसे चाहें, सीएम बना दें’

N4N DESK: लंबे वक्त से चले आ रही पंजाब की राजनीति में आखिरकार बड़ा उलटफेर हो ही गया। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया। यहां गौर करने वाली बात यह है कि पार्टी के कई सांसद इस वक्त कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ ही हैं और फिलहाल कैप्टन में मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है, जिसके पीछे उनकी मंत्रिमंडल ने भी इस्तीफा सौंप दिया है।

हालांकि गुजरात की राजनीति की तरह यहां कुछ भी अचानक से नहीं हुआ। इसकी भूमिका काफी पहले सी बनाई जा रही थी। 40 विधायकों के मोर्चा खोलने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। इनके साथ ही उनके मंत्रिमंडल ने भी इस्तीफा सौंपा है। राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात के बाद बाहर आते ही उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। जहां कैप्टन ने सीधे-सीधे कांग्रेस आलाकमान, यानी कि, सोनिया गांधी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मैं अपने ऊपर इस तरह के राजनीतिक हमले से काफी अपमानित महसूस कर रहा था। 2 महीने में 3 बार मुझे दिल्ली तलब किया गया। इस्तीफे के बाद अभी मैं कांग्रेस पार्टी से ही जुड़ा रहूंगा। हालांकि अब फैसला सोनिया गांधी के हाथ में है। वह जिसे चाहे राज्य का मुख्यमंत्री बना सकती हैं। जिनपर आलाकमान को भरोसा हो, उसे ही राज्य की बागडोर सौंपी जाए। मुझे ऐसा लगा कि पार्टी को मुझपर भरोसा नहीं है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक बड़ी बात कैप्टन ने कही कि- मेरे पास सारे विकल्प खुले हैं, आगे के सभी संभावित राह पर मैं विचार कर रहा हूं। जो मेरे साथी हैं, सपोर्टर हैं, साढ़े 9 साल मैं मुख्यमंत्री रहा, उस दौरान जो मेरे साथ रहे, उनसे बातचीत करके मैं आगे का फैसला करूंगा। मैं कांग्रेस पार्टी में हूं। साथियों के साथ बात करके आगे की पॉलिटिक्स का फैसला करेंगे।


नवजोत सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने के बाद से ही कांग्रेस में खींचतान बढ़ गई थी। खासतौर से कैप्टन के विरोधी गुट ने दूसरी बार मोर्चा खोल दिया है, जबकि अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस चाहेगी कि जल्द से जल्द इस मामले को सुलझा लिया जाए। कैप्टन के इस्तीफे के बाद कांग्रेस में भी फूट की आशंका से पूरी तरह से इनकार नहीं किया जा रहा है। वहीं, दूसरी तरफ पंजाब में जारी सियासी घटनाक्रम पर बीजेपी लगातार कांग्रेस पर हमला बोल रही है। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि जहाज जब डूबने वाला होता है तो हिचकोले खाने लगता है। उन्होंने अंबाला में कहा कि पंजाब कांग्रेस उसी प्रकार ने हिचकोले खा रही है। इसी वजह से इनका आपसी टकराव हो रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News