बिहार में COVID-19 के 1498 नए मामले, कोरोना संक्रमित मरीजो का रिकवरी रेट हुआ 88.67 फीसदी

बिहार में COVID-19 के 1498 नए मामले, कोरोना संक्रमित मरीजो का रिकवरी रेट हुआ 88.67 फीसदी

PATNA: बिहार में जैसे-जैसे कोरोना की जांच तेज होती जा रही है वैसे-वैसे अब मामलों में लगातार गिरावट देखी जा रही है. बिहार में संक्रमित मामले तेजी से कम होते जा रहे हैं. बिहार की बात करें तो स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 9 सितंबर को जारी किए गए आंकड़े के मुताबिक राज्य में 1498 में संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है.  इन सभी लोगों के सैंपल की जांच 8 सितंबर को की गई थी. जिसके साथ राज्य में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 17337 पर पहुंच गई है. 

जिन जिलों में संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं उसमें सबसे ज्यादा राजधानी पटना में 203 नए मामलों की पुष्टि हुई है, जबकि सहरसा में 111 नए मामले सामने आए हैं. भागलपुर में जहां 61 नए मरीजों की पुष्टि हुई है, वहीं अररिया में 58 नए लोगों की पुष्टि हुई है, जबकि दरभंगा में 50, मधेपुरा में 47, मुजफ्फरपुर में 68, नालंदा में 61 नए मामले सामने आए है. 

 बिहार में कोरोना की स्थिति पर हाईकोर्ट सख्त 

बिहार में लगातार चौथी बार स्वास्थ्य विभाग ने पटना हाईकोर्ट में जवाबी हलफनामा दाखिल नहीं किया. इसपर पटना हाईकोर्ट ने नाराजगी जाहिर करते हुए गंभीर टिप्पणी की. मंगलवार को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय कोरोल तथा न्यायमूर्ति एस कुमार की खंडपीठ ने कोरोना को लेकर दायर आधे दर्जन मामले पर सुनवाई की. कोर्ट ने सरकार के रवैये पर खेद जताया और कहा कि कोरोना मरीजों की स्थिति कितनी भयावह है, इससे निजी तौर पर वे वाकिफ हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कोर्ट के एक स्टाफ को कोरोना हुआ और उसके इलाज में लापरवाही से यह बात समझ में आ गई कि बिहार में कोरोना के इलाज की स्थिति ठीक नहीं है.

Find Us on Facebook

Trending News