20 दिन में मधुबनी में दूसरा हत्याकांड! महादेव मंदिर में दो साधुओं का सिर धड़ से किया अलग

20 दिन में मधुबनी में दूसरा हत्याकांड! महादेव मंदिर में दो साधुओं का सिर धड़ से किया अलग

Madhubani : मधुबनी के बेनीपट्टी हत्याकांड की आग अभी पूरी तरह से बूझी भी नहीं है कि एक बार फिर जिले में हत्या की बड़ी घटना सामने आ गई है। यहां महादेव मंदिर में दो साधुओं की सिर काट कर हत्या कर दी गई है। जिसके बाद से इलाके में हड़कंप मच गया है। दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा चुका है।

मामला जिले के हरलाखी प्रखंड के खिरहर गांव का बताया जा रहा है। जहां धरोहरनाथ महादेव मंदिर में दो साधुओं की हत्या कर दी गई। हत्यारे ने दोनों साधुओं के कुदाल से दोनों साधुओं के सिर को धड़ के काट कर अलग कर दिया। मारे गए साधुओं की पहचान बासोपट्टी प्रखंड के सिरियापुर निवासी हीरा बाबा (70 वर्ष) और भगवानपुर निवासी अंगद बाबा ( 60 वर्ष) के रूप में की गई है। नारायण मुखिया के अनुसार मृतक दोनों साधु धरोहरनाथ महादेव मंदिर के पुजारी नहीं थे, लेकिन बगल के गांव का निवासी होने के नाते रोज मंदिर आते थे। 

गांव के युवक ने की हत्या, मंदिर के कमरे में छिपा रहा था लाश

 मंदिर के मुख्य पुजारी नारायण मुखिया ने पुलिस को बताया है कि दोनों साधुओं हत्यारा खिरहर गांव का ही दीपक चौधरी है। उनके अनुसार मंगलवार की रात लगभग 1 बजे दीपक ने हीरा बाबा और अंगद बाबा का सिर कुदाल से काट दिया था। हीरा बाबा का सिर और धड़ तथा अंगद बाबा का सिर उसने मंदिर के बगल वाले कमरे में भूसे के ढेर के अंदर छिपा दिया था जबकि, अंगद बाबा का धड़ बगल के एक अन्य कमरे में रख दिया था।

हर दिन आरती में आता था हत्यारा

पुजारी के अनुसार दोनों साधुओं की हत्या के बाद वह वहां फैले खून पर मिट्टी डाल रहा था और इसके बाद अपने हाथ चापाकल पर धो रहा था, तभी उन्होंने उसे देख लिया। उनके शोर मचाने पर वह भाग गया। पुजारी ने बताया कि आरोपी दीपक चौधरी विक्षिप्त किस्म का युवक है। उसकी उम्र 30-32 साल है। वह गांव में ही रहता है। उन्होंने आगे बताया कि दीपक चौधरी मंदिर में रोज शाम की आरती में आता था, लेकिन मंगलवार की शाम को नहीं आया था। आरती में शामिल लोगों ने इस बात की चर्चा भी की थी कि दीपक चौधरी नजर नहीं आ रहा है।

इधर, पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कुदाल को बरामद कर लिया है। आरोपी और उसके परिवार वाले फरार हैं। खिरहर थानाध्यक्ष अंजेश कुमार ने बताया कि पुलिस नारायण मुखिया के बयान पर प्राथमिकी दर्ज करने की तैयारी कर रही है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी की जा रही है। हालांकि इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि आरोपी दीपक चौधरी की दोनों साधुओं से क्या दुश्मनी थी। 


Find Us on Facebook

Trending News