भाई बिरेंद्र ने कहा बिहार के राजनीतिज्ञ बिना शराब पिए नहीं सोते हैं... विधानसभा अध्यक्ष ने पूछा - आपको कैसे पता...

भाई बिरेंद्र ने कहा बिहार के राजनीतिज्ञ बिना शराब पिए नहीं सोते हैं... विधानसभा अध्यक्ष ने पूछा - आपको कैसे पता...

पटना। बिहार विधानसभा के बजट सत्र में बुधवार के दिन की शुरुआत प्रदेश में शराब की ब्रिकी को लेकर की गई। इस दौरान एक न्यूज चैनल के स्टिंग ऑपरेशन का हवाला देते हुए सभी विपक्षी सदस्यों ने जमकर हंगामा मचाया और सदन का बहिष्कार करने की बात कही। हालांकि विधानसभा अध्यक्ष के समझाने पर सदन की कार्यवाही फिर से आरंभ हो गई।

इस दौरान राजद विधायक भाई विरेन्द्र ने राज्य में शराब ब्रिकी पर अपनी बात रखते हुए कहा कि बिहार में कोई भी राजनीतिज्ञ और अधिकारी रात को शराब पीए बिना नहीं सोता है, यह सच्चाई है, इससे कोई भी इनकार नहीं कर सकता है। भाई विरेन्द्र के बयान पर विधानसभा अध्यक्ष ने भी चुटकीले अंदाज में पूछ लिया- आपको कैसे पता है


विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि इतना जानते हैं तो दो चार नाम सदन को बता दीजिए, ताकि उन पर कार्रवाई की जाए, जब भाई विरेन्द्र ने कोई जवाब नहीं दिया तो उन्होंने कहा कि नाम नहीं बताना चाहते हैं, लिखकर हमें दे दीजिए...

इससे पहले विधानसभा नें शराब की बिक्री को लेकर भागलपुर विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि आज स्थिति यह है कि बिहार के लोग दूसरे प्रदेशों से तीन गुना कीमत पर शराब खरीद कर लाते हैं  और बिहार में पुलिस उन्हें जब्त नष्ट कर देती है। इन सबमें नुकसान बिहार का ही होता है। बिहार की संपत्ति दूसरे राज्य में जा रही है और बिहार के लोगों को इसका फायदा भी नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने मांग की है या तो बिहार में पूर्णरुपेण शराबबंदी लागू की जाए या शराब की तीन गुनी कीमत कर उसे फिर से बिहार में बेचने की छूट दी जाए, ताकि उससे होनेवाली आय का इस्तेमाल बिहार में उद्योग धंधों में लगाया जा सके और उससे युवाओं के रोजगार की व्यवस्था हो सके। 

बिहार विधानसभा में बुधवार को बिहार में शराब की बिक्री को लेकर जमकर हंगामा हुआ जिसको लेकर विपक्ष ने बहिष्कार करने की बात कही वहीं इस दौरान नीतीश सरकार पर जमकर आरोप लगाए गए जहां कांग्रेस के विधायक दल नेता अजीत शर्मा ने कहा कि बिहार में लोगों ने दर पर शराब की खरीदी कर रहे हैं वही बिहार के धन दूसरे राज्यों में जा रहा है इस दौरान उन्होंने मांग की कि बिहार में 3 गुना शराब की कीमत बढ़ाकर बिक्री की जाए ताकि बिहार का धन बिहार में ही रहे

Find Us on Facebook

Trending News