बिहार विधान सभा चुनाव में पोस्टल बैलेट से भी पड़ेंगे वोट, इन लोगों को दी जाएगी ये सुविधा

पटना : कोरोना काल के बीच बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव में कई तरह के बदलाव देखे जाएंगे. बिहार विधानसभा चुनाव में 65 साल से अधिक उम्र के मतदाताओं और कोरोना संक्रमण के कारण क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोगों को पोस्टल बैलट से मतदान की सुविधा मिलेगी. केंद्र सरकार के विधि एवं न्याय मंत्रालय ने नियमों में यह बदलाव किया है. बिहार में करीब 59 लाख मतदाता 65 साल से अधिक उम्र के हैं जो कुल मतदाताओं की संख्या के 8.3 फीसदी हैं.

65 साल से अधिक उम्र के पुरुष मतदाताओं की संख्या 30 लाख 21 हजार 957 और महिला मतदाताओं की संख्या 28 लाख 80 हज़ार 459 है. इन्हें पोस्टल बैलट की सुविधा मिलेगी. पोस्टल बैलट की सुविधा अभी तक सर्विस वोटरों को ही मिलती रही है. कोरोना काल मे यह पहली बार होगा कि बुजुर्ग मतदाताओं को भी यह सुविधा मिलेगी. गौरतलब है कि झारखंड चुनाव में सिर्फ सात सीटों पर 80 से अधिक उम्र के लोगों को पहली बार प्रायोगिक तौर पर पोस्टल बैलेट की सुविधा दी गई थी.

कोरोना पॉजिटिव भी डाल सकेंगे वोट
नई व्यवस्था के तहत कोविड-19 के वैसे संदिग्धों और संक्रमितों को जिनकी सरकारी अस्पताल में या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त अस्पतालों में जांच की गई है वे इस दायरे में होंगे. इसके अलावा जो लोग होम या संस्थागत क्वॉरेंटाइन हैं उन्हें सक्षम प्राधिकार से सर्टिफाइड किया जाएगा. बिहार में अक्टूबर-नवंबर में 243 सीटों के लिए विधानसभा का चुनाव होना है.

Find Us on Facebook

Trending News