बिहार में फिर गरजे योगी आदित्यनाथ कहा- जातिवादी और वंशवादी ताकतों को भी करना है परास्त

बिहार में फिर गरजे योगी आदित्यनाथ कहा- जातिवादी और वंशवादी ताकतों को भी करना है परास्त

लालगंज: बिहार विधानसभा चुनाव के प्रचार में उतरे बीजेपी के फायर प्रचारक और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजद-कांग्रेस-भाकपा माले महागठबंधन पर बिहार में दोबारा जंगलराज लाने को लेकर प्रयास करने का आरोप लगाया है. कहा इनकी मनसा बिलकुल साफ़ है यह बिहर में फिर से जंगल राज लेन की तैयारी में है. उन्होंने  कहा कि अपने 15 साल के शासन में बिहार के युवाओं को अपनी पहचान छिपाने को मजबूर करने वाले फिर से रोजगार का झुनझुना दिखाकर युवाओं को गुमराह कर रहे हैं. विपक्षी महागठबंधन पर निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने दावा किया कि कश्मीर से आतंकवाद  के खात्मे के बाद देश से नक्सलवाद को उखाड़ फेंकने की तैयारी चल रही है.

योगी आदित्यनाथ ने सिवान में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए खास तौर पर अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण और एक बार में तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाने एवं जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने का जिक्र किया. उन्होंने नरेन्द्र मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए बिहार के विकास के लिए नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार पर बल दिया. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘याद कीजिये, कुछ वर्षों पहले बिहार के सामने पहचान का संकट था. जंगलराज की स्थिति किन लोगों ने पैदा की थी? आज वे फिर से ताक में हैं, इन जातिवादी और वंशवादी ताकतों को परास्त करना है.’’


जातिवादी और वंशवादी ताकतों को भी परास्त करना है

उन्होंने कहा, जब रघुवंश बाबू ने अंतिम चिट्ठी लालूजी को लिखी तो यही कहा कि राजद के पोस्टर में परिवार के 4 चेहरों को छोड़कर किसी और का चेहरा क्यों नहीं होता? उन्होंने लोगों से सवाल किया, ऐसे वंशवादी, परिवारवादी लोगों पर भरोसा करना है क्या? विपक्ष खास तौर पर राजद पर निशाना साधते हुए उन्होंने लोगों से कहा कि चुनाव में जिस तरह से सुरक्षित मतदान के जरिये कोरोना वायरस को परास्त कर कर रहे हैं, उसी प्रकार से जातिवादी एवं वंशवादी ताकतों को परास्त करना है. तेजस्वी यादव का नाम लिये बिना योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से 15 साल पहले बिहार के युवा अपनी पहचान छुपाने के लिए मजबूर थे और ऐसा संकट पैदा करने वाले लोग आज बिहार में फिर से रोजगार का झुनझुना दिखाकर युवाओं को गुमराह कर रहे हैं. जातिवाद का आरोप लगते हुए योगी ने कहा जातिवाद और परिवारवाद को बढ़ावा दे कर इन्होने बिहार को बर्बाद करने का काम किया है.  जंगल राज का आलम दोहराते हुए योगी ने बिहार की जनता को याद दिलाया इनके राज में क्या होता था क्या नही.


\विपक्षी महागठबंधन पर तीखा प्रहार किया

विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा राजद - कांग्रेस देश और बिहार को कमजोर करने वाली ताकतों से जा मिला है. ये कभी विकास के रस्ते पर कभी चल ही नही सकते . राजद-कांग्रेस-भाकपा माले महागठबंधन बिहार में दोबारा ‘जंगलराज’लाना चाहते हैं. उन्होंने कहा, लेकिन वे सुन लें कि कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे के बाद अब नक्सलवाद को देश से उखाड़ फेंकने की तैयारी चल रही है. अब भारत की धरती पर नक्सलवाद का निशान नहीं रहेगा. 

Find Us on Facebook

Trending News