अब बिहार में लागू होगा 'राजगीर' मॉडल, CM नीतीश बहुत जल्द अधिकारियों को ले जाकर दिखायेंगे

अब बिहार में लागू होगा 'राजगीर' मॉडल, CM नीतीश बहुत जल्द अधिकारियों को ले जाकर दिखायेंगे

PATNA: जल-जीवन-हरियाली दिवस के अवसर पर 'जल-जीवन-हरियाली अभियान में जन-भागीदारी' विषयवस्तु पर सीएम नीतीश ने परिचर्चा कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस मौके पर अपने संबोधन में कहा कि जल-जीवन हरियाली को लेकर बिहार की सरकार काफी सक्रिय है।सीएम नीतीश ने अपने संबोधन में सोशल मीडिया पर खूब भड़ास निकाली। इतना ही नहीं एक अधिकारी जिन्होंने मंच से सलाह दी थी उनकी भी क्लास लग गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आगे कहा कि राजगीर ऑडिनेंस फैक्ट्री के आसपास अगल 2 साल तक वर्षा न हो फिर कोई परेशानी नहीं होगी। ऐसा इसलिए क्यों कि वहां पर बड़े-बड़े तालाब बनाए गए हैं जिससे बारिश की पानी का संरक्षण होता है। यह मॉडल पूरे बिहार में लागू करने की जरूरत है।

गुस्से में हुए सीएम नीतीश 

सीएम नीतीश ने जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता के मंच पर किये गए संबोधन पर सीएम नीतीश गुस्से में आ गए। नीतीश कुमार ने आगे कहा कि आपको कुछ  जानकारी नहीं है कि पर्यावरण को लेकर बिहार के सरकारी स्कूल के बच्चों को कितना जागरूक किया गया है। आपको जो काम है उसके बारे में जानकारी रखिये। आप जल संसाधन विभाग के इंजीनियर हैं आप अपने विभाग के बारे में पहले जानकारी रखिये।हमलोगों ने पर्यावरण को लेकर काफी काम किया है। 

सोशल मीडिया में मेरे खिलाफ दुष्प्रचार किया जा रहा

बिहार के मुखिया सोशल मीडिया से परेशान हैं। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया ने परेशान कर रखा है। फालतू की बातें घर-घर पहुंच जा रही और हमारे द्वारा किए गए अच्छे कामों की पूछ नहीं। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना काल में हमारे खिलाफ कितना दुष्प्रचार किया गया। बिहार सरकार ने कोरोना काल में फंसे लोगों के लिए क्या नहीं किया,फिर भी तरह-तरह की बातें की गई। कहा गया कि बिहार की सरकार कुछ नहीं कर रही। जबकि सरकार ने बाहर फंसे लोगों के खाते में एक-एक हजार रू उनके खाते में भिजवाया। फिर भी कुछ लोग कमेंट करते थे कि कुछ राज्य बसों से भरकर अपने लोगों को वापस ला रहे और हमलोग चुपचाप बैठ हैं। केंद्र सरकार ने गाईडलाइन में जैसे ही बदलाव किया हमलोगों ने भी बाहर फंसे लोगों को वापस लाने की कोई सर नहीं छोड़ी।हमलोग जो काम करते हैं वो घर -घर नहीं पहुंचती लेकिन जहां कुछ कमी रह जाती है वो बातें घर-घर पहुंच जाती है। 

अब राजगीर मॉ़ल लागू होगा

सीएम नीतीश ने अधिकारियों से कहा कि पूर्व रक्षा मंत्री जॉड फर्नांडिस के प्रयास से राजगीर ऑडिनेंश फैक्ट्री लगी। उस समय हमारी सलाह पर वहां बड़े-बड़े तालाब का निर्माण हुआ। आज स्थिति यह है कि अगर 2 साल भी वर्षा नहीं हो तो वहां पानी की कमी नहीं होगी। क्यों कि वहां पर रक्षा मंत्रालय ने फैक्ट्री के अगल-बगल बड़े-बड़े तालाब का निर्माण कराया है।मुख्यमंत्री ने कहा कि हम फिर से वहां जायेंगे और अपने अधिकारियों को भी ले जायेंगे ताकि वहां देखें और बाकी जगहों पर उसे लागू करें। बड़े-बड़े तालाब बनेंगे जिससे की बारिश की पानी का संरक्षण हो सकेगा। सीएम नीतीश ने अधिकारियों से कहा कि आपलोग राजगीर के ऑडिनेंस फैक्ट्री के आसपास बने तालाबों की तस्वीर शेयर कीजिए । इसका फायदा होगा कि लोग जानेंगे और अपने आसपास भी तालाब निर्माण को लेकर प्रेरित होंगे। 

Find Us on Facebook

Trending News