बिहार में 8 हजार सहायक प्रोफेसर की होगी बहाली, जुलाई महीने से शुरू होगी प्रक्रिया

बिहार में 8 हजार सहायक प्रोफेसर की होगी बहाली, जुलाई महीने से शुरू होगी प्रक्रिया

पटनाः बिहार के विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में सहायक प्रोफेसर की कमी दूर करने के लिए बहुत जल्द बहाली प्रक्रिया शुरू होने वाली है।जून के अंत तक सभी विश्वविद्ययालों से  रिक्ति की जानकारी शिक्षा विभाग को मिल जाएगी। उसके बाद शिक्षा विभाग शिक्षकों की रिक्ति राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग को भेजी जाएगी।क्यों कि आयोग के माध्यम से ही शिक्षकों का चयन होना है।अधिक संभावना है कि जुलाई महीने में बहाली की प्रक्रिया शुरू हो।

राजभवन में कुलसचिवों की बैठक 21 जून को

राजभवन ने 21 जून को सभी कुलसचिवों की बैठक बुलाई है। इसमें विवि में शिक्षकों की कमी मामले पर चर्चा होगी। शैक्षणिक कैलेंडर के अनुसार पढ़ाई समय पर पूरा करने के लिए जब तक नियमित सहायक प्रोफेसर की नियुक्ति नहीं होती है, तब तक गेस्ट फैकल्टी से पढ़ाई पूरा कराने की कार्रवाई पर चर्चा होगी।

बिहार में विश्वविद्यालय सेवा आयोग का गठन हो चुका है।जून के अंत या जुलाई प्रथम सप्ताह में विवि सेवा आयोग को विभिन्न विवि में शिक्षकों की रिक्ति मिल जाएगी। रिक्ति के आधार पर आयोग अभ्यर्थियों से आवेदन लेगा।

 राज्य के 10 विवि में वर्तमान में स्वीकृत पद 13564 हैं, जबकि कार्यरत 6079 हैं।इस तरह से रिक्त पद 7485 हैं। बिहार लोक सेवा आयोग से विवि में शिक्षकों के 3364 पदों पर नियुक्ति के कहा गया था। विभिन्न विषयों में लगभग तीन हजार शिक्षकों की अनुशंसा बीपीएससी से विभाग को आ चुकी है। विभाग भी विवि को शिक्षकों की जरूरत के हिसाब से अनुशंसा कर रहा है।





Find Us on Facebook

Trending News