जनसंख्या वृद्धि को लेकर विपक्ष का बड़ा हमला - एक अल्पसंख्यक समुदाय को टारगेट कर रही है राज्य सरकार

जनसंख्या वृद्धि को लेकर विपक्ष का बड़ा हमला - एक अल्पसंख्यक समुदाय को टारगेट कर रही है राज्य सरकार

patna. बिहार में जनसंख्या वृद्धि नियंत्रण को लेकर सियासी घमासान तेज हो गया है। जहां सीएम नीतीश कुमार ने बिहार में प्रजनन दर में गिरावट आने की जानकारी सदन को दी है, वहीं दूसरी तरफ भाजपा के विधायक हरिभूषण ठाकुर ने एक खास अल्पसंख्यक समुदाय को निशाना बनाते हुए कहा उनके लोक जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए गंभीर नहीं है, वह लोग नसबंदी नहीं कराते हैं। भाजपा विधायक के इन आरोपों के बाद अब इस पर सियासत तेज हो गया है। राजद ने एनडीए नेता के इस बयान पर आपत्ती जाहिर करते हुए कहा कि एक खास समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है। 

मामले में बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री ने भी साफ शब्दों में कहा है कि कि अगर आपके घर में 2 से अधिक बच्चे पैदा होते हैं तो उन्हें बिहार सरकार का 50000 का लाभ नहीं उठा पाएंगे। मामले में राजद नेता भाई विरेंद्र ने कहा उन्हें टीवी पर आने के लिए ऐसा बयान दिया है, उनकी बातों के गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। जनसंख्या वृद्धि को रोकना जरूरी है, लेकिन इसके लिए किसी समुदाय को टारगेट नहीं कर सकते हैं।

वहीं भाई विरेंद्र के बयान को लेकर जिगेश मिश्रा ने कहा कि नियम से आए दिन आम लोगों को भला होगा वहीं उन्होंने बताया कि पक्ष और विपक्ष को दोनों मिलकर इस पर अमल करना चाहिए साथ ही साथ उन्होंने भाई बिरेंद्र के बयानों को लेकर कहा के सिर्फ हंगामा करना जानते हैं बिहार की भला के बारे में वह क्या सोचेंगे। आबादी के हिसाब से बिहार तीसरे स्थान पर है, जबकि हमारे पास जगह की तेजी से कमी हो रही है। इसलिए जनसंख्या पर नियंत्रण लगाना चाहिए



Find Us on Facebook

Trending News