तेजस्वी ने विस में उठाया सवाल तो हरकत में आई सरकार, आनन-फानन में मैट्रिक की सोशल साइंस का पेपर रद्द

तेजस्वी ने विस में उठाया सवाल तो हरकत में आई सरकार, आनन-फानन में मैट्रिक की सोशल साइंस का पेपर रद्द

PATNA:  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आज विधानसभा में मैट्रिक परीक्षा का प्रश्न पत्र लिक होने का मामला उठाया तो सरकार की नींद खुली।इसके बाद अब जाकर बिहार बोर्ड ने सोशल साइंस की परीक्षा को रद्द कर दिया है। बिहार बोर्ड ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है ।अब यह परीक्षा 8 मार्च को आयोजित की जाएगी।

बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि जमुई में एक क्वेश्चन पेपर बैंक कर्मियों की मिलीभगत से वायरल किया गया। जमुई के एसपी और डीएम ने पूरे मामले की जांच की तो पाया गया कि झाझा स्टेट बैंक से प्रश्न पत्र का फोटो खींचकर व्हाट्सएप किया गया। इसमें झाझा एसबीआई के एक संविदा कर्मी विकास कुमार की भूमिका संदिग्ध है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।


बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि शुक्रवार को पहली पाली में सामाजिक विज्ञान की परीक्षा आयोजित थी जिसे रद्द कर दिया गया है ।आज की परीक्षा में 846000 से अधिक बच्चे शामिल हो रहे थे। अब यह परीक्षा 8 मार्च को दुबारा आयोजित की जाएगी।

बता दें कि तेजस्वी यादव ने विधानसभा में मामला उठाया तब खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वहां मौजूद थे। सत्र खात्मे के बाद उन्होंने अधिकारियों से पूरे मामले की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने जब संज्ञान लिया तब जाकर बिहार बोर्ड हरकत में आया और पूरे मामले पर जांच बिठाई गई। तेजस्वी का आरोप सही साबित हुआ और बिहार बोर्ड बैकफुट पर आया।

Find Us on Facebook

Trending News