BIHAR NEWS: गंडक नदी बरपा रही कहर, बराज से छोड़ा 2.18 लाख क्यूसेक पानी, दर्जनों गांव में आई आफत

BIHAR NEWS: गंडक नदी बरपा रही कहर, बराज से छोड़ा 2.18 लाख क्यूसेक पानी, दर्जनों गांव में आई आफत

BETTIAH: पश्चिम चम्पारण में गंडक नदी लगातार कहर बरपा रही है। अभी तक नदी का प्रकोप कम नहीं हुआ है। जिस वजह से दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। बुधवार को भी वाल्मीकि गंडक बराज से 2 लाख 18 हजार क्यूसेक पानी गंडक नदी के लो स्ट्रीम में प्रवाहित किया गया।

लगातार हो रही बारिश और गंडक बराज से छोड़ा गया पानी बेतिया में कहर बरपा रहा है। गंडक नदी ने अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। जिले के दियारा इलाके के दर्जनों गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। सैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसलें  भी बर्बाद हो गई हैं। जिले में लगातार हो रही बारिश और गंडक बराज से छोड़ा गया पानी तबाही  मचा रहा है। जिससे बेतिया के नौतन और बैरिया प्रखंड पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में आ गये हैं। गंडक नदी के पानी ने लोगों के आम जन-जीवन को पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है। दियारा के दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी घुसने से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। लोगों के घरों में बाढ़ का पानी घुस गया है। बाढ़ और कीड़े-मकोड़ों के डर से लोग अपने घरों को छोड़कर ऊंची जगहों पर पलायन कर रहे हैं। सैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसलें बर्बाद बर्बाद हो गई हैं। सड़कों के ऊपर बाढ़ का पानी पूरी तरह से बह रहा है। एक मात्र नाव हीं लोगों के आवाजाही का साधन रह गया है।

इस संबंध में बैरिया के अंचलाधिकारी भास्कर कुमार ने बताया की एक सरकारी नाव चलवाया जा रहा है। हमारे पास जितने भी रजिस्टर्ड नाव हैं उसमें से  जरूरत के हिसाब से और नाव को चलवाया जाएगा। बाढ़ का निरीक्षण किया जा रहा है। उसके बाद जो भी आवश्यक होगा वो सब किया जाएगा। वहीं बाढ़ पीड़ित शीला देवी ने बताया कि कितने दिन हो गए हैं। बाढ़ का पानी गांवों और हमारे घरों में घुस गया गया है। कीड़े-मकोड़ों के डर से घर से बाहर रह रहे हैं। अभी तक कोई अधिकारी या जन-प्रतिनिधि पूछने तक नहीं आया है। सड़कों के ऊपर बाढ़ का पानी बह रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News