गरीब, निर्धन और निराश्रित लोगों को दो टाइम का खाना देगी राज्य सरकार, सभी जिलों में शुरू होगी सामुदायिक रसोई

गरीब, निर्धन और निराश्रित लोगों को दो टाइम का खाना देगी राज्य सरकार, सभी जिलों में शुरू होगी सामुदायिक रसोई

PATNA : बिहार में आज लॉकडाउन लग गया है। जिसकी सबसे ज्यादा मार गरीब, निराश्रित, निर्धन और निःशक्त लोगों पर पड़ी है। हर दिन मेहनत कर पेट पालने को मजबूर इन लोगों के हाथ से काम छिन गया है। ऐसे में इन लोगों को लॉकडाउन में भूखे पेट रहने की जरुरत न पड़े, सरकार ने सभी जिलों में सामुदायिक किचन शुरू करने के निर्देश दिए हैं। सरकार की तरफ से सभी जिलों के डीएम को यह कहा गया है कि अपने जिले में तत्काल प्रभाव से यह व्यवस्था करें। 

लॉकडाउन में दो टाइम का खाना

सरकार किचन में सरकार की तरफ से दो टाइम का खाना उपलब्ध कराया जाएगा, जिनमें दोपहर और रात का भोजन शामिल है। यह कुछ उसी तरह का होगा, जिस तरह की व्यवस्था पिछले साल लॉकडाउन के दौरान की गई थी। इस सामुदायिक किचन में कोरोना से बचाव के लिए सभी नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है।

पटना में नगर निकाय और आपदा प्रबंधन संभालेंगे जिम्मेदारी

राजधानी पटना में सामुदायिक किचन शुरू करने की जिम्मेदारी आपदा प्रबंधन और स्थानीय नगर निकाय को सौंपी गई है। जिनमें आपदा प्रबंधन के उपायुक्त को   पटना हाई स्कूल गर्दनी बाग, कॉमर्स कॉलेज, इंटर मिलर स्कूल और बांकीपुर बालिका उच्च विद्यालय में सामुदायिक किचन की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसी तरह नगर निगम और नगर निकायों को गायघाट रैन बसेरा, मैकडॉवेल चौक राजेंद्र नगर, मलाही पकड़ी कंकड़बाग, एसकेपुरी पार्क के पीछे सामुदायिक भवन, कुनकुन सिंह लेन के समीप साइंस कॉलेज के पास, डीएवी सगुना मोड़, सैदपुर नहर शामिल हैं।
 

Find Us on Facebook

Trending News