BIHAR NEWS: जिस हॉपशूट्स ने किसान को बनाया मशहूर, उसकी खेती बिहार में संभव ही नहीं

BIHAR NEWS: जिस हॉपशूट्स ने किसान को बनाया मशहूर, उसकी खेती बिहार में संभव ही नहीं

AURANGABAD: बिहार का औरंगाबाद जिला कुछ दिनों पहले काफी चर्चा में आ गया था, जब वहां के एक किसान ने यह दावा किया कि उसने जिले में हॉपशूट्स नामक सब्जी की खेती की है. इस खबर ने उस किसान को एक झटके में चर्चित कर दिया, और सभी जगह उसके चर्चे होने लगे. मगर उसकी पोल परिवार ने ही खोल दी जब उन्होनें बताया कि यहां इस सब्जी की खेती होती ही नहीं है.

खबर औरंगाबाद जिले के नवीनगर की है जहां किसान अमरेश सिंह ने यह दावा किया था कि वह ऐसी सब्जी की खेती कर रहे हैं जिसकी कीमत करीब एक लाख रुपए प्रति किलो है. इस सब्जी का नाम हॉपशूट्स है और इसकी खेती नवीनगर में की जा रही है. जब मामले की गहराई से जांच पड़ताल की गई तो पता चला कि यह खबर सरासर गलत है और ऐसी कोई सब्जी औरंगाबाद या पूरे बिहार में उगती ही नहीं. 

नवीनगर के करमडीह गांव में जब टीम जांच करने पहुंची तो किसान अमरेश सिंह के बेटे शुभम सिंह ने ही उनकी पोल खोल दी. शुभम ने बताया कि हॉपशूट्स की खेती यहां नहीं होती. वायरल फोटो और तस्वीरों में जिस पौधे को हॉपशूट्स बताया जा रहा है वो दरअसल मेंथा का पौधा है.

इस बारे में जब कृषि वैज्ञानिक नित्यानंद राय से बात की गई तो उन्होंने साफ तौर पर इसे झूठा बताया और कहा कि यह खबर पूरी तरह झूठी है. हॉप शूट्स की खेती बिहार में संभव ही नहीं है. यह ठंडी जगह का पौधा है, जहां तापमान 10-12 डिग्री से नीचे रहता है. औरंगाबाद का तापमान हॉप शूट्स के मुताबिक नहीं है. ऐसे में यहां इसकी खेती की बात पूरी तरह से झूठी है.

Find Us on Facebook

Trending News