BIHAR NEWS : सुपौल में भी उठ रही हैं पप्पू यादव के समर्थन में आवाजें, इसी जिले के जेल में बंद हैं जाप सुप्रीमो

BIHAR NEWS : सुपौल में भी उठ रही हैं पप्पू यादव के समर्थन में आवाजें, इसी जिले के जेल में बंद हैं जाप सुप्रीमो

SUPOUL : जिले के बीरपुर उपकारा में बंद जाप सुप्रीमो पप्पू यादव के लिए स्थानीय स्तर पर भी लोगों ने आवाज उठाना शुरू कर दिया है।  पूर्व सांसद पप्पू यादव की गिरफ्तारी को लेकर त्रिवेणीगंज निवासी समाज सेवी व जिला परिषद प्रत्याशी शबाना खातुन ने बिहार सरकार की दोहरी मानसिकता पर जम कर बरसी हैं, उन्होंने कहा बिहार में सरकार की नाकामियों को उजागर करना गुनाह है। अगर आप यह जुर्म करेंगे तो सलाखों के पीछे डाल दिये जायेंगे। क्या यही है, लोकतंत्र किसी गरीब को भलाई करना जुर्म है, आज दुख की घड़ी में पप्पू यादव को पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है, कि पप्पू यादव लगातार लॉकडाउन का उलंघन कर रहे थे। 

शाम होते- होते पटना पुलिस ने अपनी बयान बदल दिया कहा 32 साल पुराना केस में बेल टूटी थी, उसी मामले में गिरफ्तार किया गया है, हद तो इस बात की है,  पप्पू यादव को गिरफ्तार करने वाले पुलिस को खुद पता नहीं है,कि पप्पू यादव को किस मामले गिरफ्तार कर रहे है, मुझे तो समझ में नहीं आता कि नीतीश जी किस तरह से शासन चला रहे, जो व्यक्ति 24 घंटा लोगों की बीच अपनी जान की बाजी लगाकर इस कोरोना संकट में मदद् करते हैं, लेकिन माननीय मुख्यमंत्री नीतीश जी को आम लोगों की मदद् करना देख बुरा लगा। बुरा लगना भी लाजिमी है, क्योंकि नीतीश जी के विधायक व सांसद पटना और दिल्ली में बैठकर आम लोगों की सुधी लेते हैं, पप्पू यादव एक ही ऐसा व्यक्ति है,जो संकट के घड़ी में लोगों बीच जाकर मदद् करते हैं। 

उन्होंने कहा कि पप्पू यादव को गिरफ्तार कर नीतीश जी आपने कोई शाबासी नहीं की बल्कि आप ने अपने ही पैर मे कुल्हाड़ी मारी है,  अब भी आप में थोड़ा सा शर्म बची है, तो पप्पू यादव को रिहा करवा दिजये, क्योंकि सत्ता किसी का खरीदा हुआ नही है, यह लोकतंत्र से चलता है, कही ऐसा न हो की लोग आन्दोलन के रूप लें, पप्पू यादव की गिरफ्तारी के बाद बिहार में बवाल मच गया है। आम लोगों में सरकार के खिलाफ भारी नाराजगी है। आम लोग ही नहीं बल्कि सरकार की सहयोगी जीतनराम मांझी ने भी सीएम नीतीश के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। लगातार जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो पप्पू यादव जी आम लोगों के बीच जाकर उनको मदद करने का काम कर रहे थे, सरकार की अनियमितता को उजागर करने का काम कर रहे थे। 

आज उसका परिणाम है, कि सरकार के इशारे पर उनको आज गिरफ्तार कर लिया है, चार चार थाने की पुलिस उनकी गिरफ्तारी करने गई थी ऐसा लगता है कि बहुत बड़े अपराधी की गिरफ्तारी पटना में हो रही थी।  निश्चित रूप से सरकार को लग रहा था कि जब तक पप्पू यादव रहेंगे तब तक सरकार के आनमिता को उजागर करने का काम करेंगे इसलिए एक रणनीति के तहत उनकी गिरफ्तारी हुई है। आप के माध्यम से में पूछना चाहता हूँ पप्पू यादव कोन सा गुनाह किया है, जो पप्पू यादव की गिरफ्तारी हुई है, देश जानना चाहता है,


Find Us on Facebook

Trending News