जेपी के नाम पर तेज हुई बिहार की राजनीति, बरसी पर आज सिताब-दियारा जा रहे हैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

जेपी के नाम पर तेज हुई बिहार की राजनीति, बरसी पर आज सिताब-दियारा जा रहे हैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

CHHAPRA :  कांग्रेस के खिलाफ 1974 में सपूर्ण क्रांति का नारा देकर इंदिरा गांधी की सत्ता को हिलाने वाले समाजवादी नेता जयप्रकाश नारायण की पुण्यतिथि पर आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनके पैतृक गांव सिताब दियारा जानेवाले हैं। वहीं आगामी 11 अक्टूबर को जेपी की जयंती पर गृह मंत्री अमित शाह भी सिताब दियारा आने वाले हैं। ऐसे में अगले कुछ दिन बिहार में राजनीति का केंद्र सिताब दियारा बनने जा रहा है। 

दो पार्टियों की लड़ाई में सिताब दियारा एक बार फिर चर्चा में आ गई है।   जिसमें  एक तरफ उनके समाजवादी शिष्य नीतीश कुमार हैं तो दूसरी तरफ 74 के आंदोलन में जनसंघ और जनता पार्टी के तौर पर साथ देने वाली आज की भाजपा के ताकतवर नेता अमित शाह हैं। लेकिन, अमित शाह के दौरे से पहले ही बिहार सरकार ने जेपी की पुण्यतिथि पर सिताब दियारा में राजकीय समारोह आयोजित करने का फैसला ले लिया। शुक्रवार को लिया फैसला शनिवार को अमल में आ जाएगा जब सीएम नीतीश कुमार पुण्यतिथि पर जेपी को श्रद्धांजलि देने सिताब दियारा जाएंगे।

एक दिन पहले कई योजनाओं की शुरुआत की

 सिताब दियारा जाने से पहले नीतीश ने शुक्रवार को वहां कई विकास योजनाओं की शुरुआत की। नीतीश ने वहां बने स्मृति भवन, पुस्तकालय और नए पथ का लोकार्पण शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से किया। उन्होंने उत्क्रमित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के निर्माण का भी शुभारंभ किया और घोषणा की कि इस अस्पताल का नाम जेपी की पत्नी प्रभावती देवी के नाम रहेगा। 

नीतीश ने अमित शाह से सिताब दियारा के दौरे पर दियारा का यूपी वाला हिस्सा भी देखने को कहा है ताकि उन्हें पता चले कि बिहार वाले हिस्से में कितना काम हुआ है और यूपी वाले हिस्सा में कितनी उपेक्षा की गई है। नीतीश ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को एक पत्र भी लिखा है जिसके बारे में शुक्रवार को खबर आई। इस पत्र में नीतीश ने सिताब दियारा के यूपी वाले हिस्से में लंबित और जरूरी काम की ओर योगी का ध्यान खींचा है।


बीजेपी ने भी खास तैयारी

अमित शाह के सिताब दियारा दौरे को लेकर बीजेपी ने बिहार से लेकर यूपी तक बड़ी तैयारियां की है। यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने शुक्रवार को बलिया में 11 अक्टूबर के कार्यक्रम को सफल बनाने की तैयारियों की समीक्षा की। बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल भी छपरा में अमित शाह के कार्यक्रम की सफलता के लिए बैठकें कर चुके हैं। 

जयंती पर नागालैंड में रहेंगे नीतीश

नीतीश 11 अक्टूबर को जेपी की जयंती पर दिन में नागालैंड में आयोजित समारोह में शामिल होंगे जहां जेपी ने शांति स्थापना के लिए काफी काम किया था। नीतीश शाम में पटना में जेपी जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे और जेपी की कहानी सुनाएंगे।


Find Us on Facebook

Trending News