नीतीश की पुलिस से भाजपा की अपील- योगी स्टाइल में करे काम, हत्या आरोपियों की हो 48 घंटे में गिरफ्तारी या घर पर चले बुलडोजर

नीतीश की पुलिस से भाजपा की अपील- योगी स्टाइल में करे काम, हत्या आरोपियों की हो 48 घंटे में गिरफ्तारी या घर पर चले बुलडोजर

मुंगेर. बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने मुंगेर में हुई रेलकर्मी की हत्या मामले में आरोपियों को 48 घंटे के भीतर गिरफ्तार करने की मांग की है. उन्होंने पीड़ित परिजनों से मुलाकात के बाद कहा कि अपराधियों के डर परिवार भयभीत है. हमने जिले के एसपी से परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की अपील की है. 48 घंटे में आरोपी की गिरफ्तारी हो. अगर ऐसा नहीं होता है तो आरोपियों के घरों को ढहाया जाए. पीड़ित परिवार की लड़ाई भाजपा लड़ेगी और अपराधियों को तीन महीने के भीतर सजा दिलाने के लिए स्पीडी ट्रायल चलाया जाए.

 दरअसल, मुंगेर जिला अंतर्गत सफियाबाद ओपी क्षेत्र के गौरीपुर गंगटी दुर्गा स्थान के समीप सोमवार की सुबह लगभग 7 बजे ड्यूटी जाने के दौरान एक रेलकर्मी की हत्या अपराधियों ने गोली मारकर कर दी. मृतक युवक की पहचान गौरीपुर गंगटी निवासी स्व. सहदेव तांती के पुत्र 40 वर्षीय बमबम कुमार के रूप में की गयी है. रंगदारी की मांग से जुड़ी बातें भी सामने आ रही है. हालाकि पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

मृतक बमबम कुमार रेल कारखाना में कार्यरत थे. बताया जा रहा है कि बमबम कुमार घर से ड्यूटी के लिए निकले थे. इसी दौरान रास्ते में लगाए 5 संख्या में अपराधियों ने उनपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. गोली लगने के बाद घायल को परिजनों के द्वारा इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया. जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. परिजनों ने इस दौरान एक हैरान करने वाली जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि एक स्थानीय अपराधी अरविंद यादव ने पूर्व में मृतक बमबम से 5 लाख रुपया रंगदारी की डिमांड की थी. जब रंगदारी की रकम नहीं दी गयी तो पहले भी घर पर उनलोगों के द्वारा गोली चलाया गया था.

दिव्यांग मृतक को पत्नी ले जाती थी साथ : मृतक के परिजनों ने बताया कि रेलकर्मी मृतक बमबम कुमार एक हाथ से दिव्यांग थे. इस वजह से उन्हें रोज कारखाना साथ छोड़ने के लिए पत्नी साथ जाती थी. लेकिन घटना वाले दिन किसी कारणवश पत्नी साथ नहीं गई और मृतक बम बम अकेले ही साइकिल से कारखाना सुबह 7:00 बजे अपनी ड्यूटी के लिए निकले थे.

परिजनों में मचा कोहराम : बताया जा रहा है कि ड्यूटी जाने के दौरान रास्ते में घात लगाए अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और हत्या कर दिया. वहीं इस घटना के बाद मृतक बमबम की पत्नी कल्याणी कुमारी, मृतक की सास सोभा देवी, बहन नीतू देवी समेत परिवारजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. मृतक अपने पीछे पत्नी के साथ ही एक पुत्र व एक पुत्री को छोड़कर गये हैं.


Find Us on Facebook

Trending News