BJP की चुनौतीः CM नीतीश में हिम्मत है तो तेजस्वी यादव पर करें केस, नहीं तो RJD एमएलसी पर हो कार्रवाई

BJP की चुनौतीः CM नीतीश में हिम्मत है तो तेजस्वी यादव पर करें केस, नहीं तो RJD एमएलसी पर हो कार्रवाई

PATNA: सारण में जहरीली शराब से 80 लोगों की जाने चली गयी। इस घटना के बाद बिहार की राजनीति गरम है. विपक्षी पार्टी भाजपा सदन से लेकर सड़क तक आंदोलन कर रही. इधर, सत्ताधारी राजद के एमएलसी के एक स्टिंग ने आग में घी का काम कर गया। राजद एमएलसी रामबली सिंह ने अपने ही नेता तेजस्वी यादव के बारे में कह दिया कि वे भी शराब पीते हैं। विधान पार्षद के इस बयान के बाद विपक्ष को सरकार पर हमला करने का एक और मौका मिल गया है। 

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता अरविंद सिंह ने कहा है कि नीतीश सरकार के मंत्री ही कहते हैं कि शराब पीने और बेचने वालों की सूचना दें। अब तो राजद के एमएलसी ने ही इस बात की सूचना दे दी है। अब किसी दूसरे की क्या जरूरत है. राजद के विधान पार्षद रामबली चंद्रवंशी ने साफ तौर पर कह दिया है कि बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ही शराब पीते हैं।  बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि अब नीतीश कुमार में यदि हिम्मत है तो कार्रवाई करके दिखायें। तेजस्वी यादव पर मुकदमा दर्ज करें. अगर ऐसा नहीं करते हैं तो तेजस्वी यादव अपने एमएलसी जिन्होंने इस तरह की बात कही है उन पर कार्रवाई करें। 

बता दें, दो दिन पूर्व एक टेलिविजन चैनल के स्टिंग में राजद के विधान पार्षद रामबली सिंह चंद्रवंशी ने बिहार की शराबबंदी की पोल खोलकर रख दी थी। उन्होंने शराबबंदी की तुलना भगवान से करते हुए कहा था कि जिस तरह से भगवान दिखते नहीं लेकिन उनका वास हर जगह है. इसी तरह शराब भी है जो दिखती कहीं नहीं है, लेकिन मिलती हर जगह है। आप फोन करिए और दारू आपके घऱ हाजिर है। राजद एमएलसी ने कहा था कि क्या यही शराबबंदी है? 







Find Us on Facebook

Trending News