BREAKING NEWS : टोक्यो ओलंपिक में पदक की ओर सिंधू ने बढ़ाए कदम, तीरंदाजी में मेडल जीतने का सपना फिर टूटा

BREAKING NEWS : टोक्यो ओलंपिक में पदक की ओर सिंधू ने बढ़ाए कदम, तीरंदाजी में मेडल जीतने का सपना फिर टूटा

DESK : टोक्यो ओलंपिक में भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी  पीवी सिंधु ने शानदार मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची को हरा दिया है. सिंधु ने यामागुची को सीधे सेटों में 21-13, 22-20 से मात दी. इसके साथ देश को एक और पदक की उम्मीद बढ़ गई है।

शुक्रवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल मैच में सिंधू ने शानदार शुरूआत करते हुए पहले सेट आसानी से जीत लिया, लेकिन दूसरे सेट में उन्हें जापानी खिलाड़ी से कड़े मुकाबले का सामना करना पड़ा। एक वक्त ऐसा भी आया, जब सिंधू उनसे पिछड़ती नजर आई और लगा कि मैच का फैसला तीसरे सेट में होगा। लेकिन अपने अनुभव और संयम के साथ सिंधू ने सेट में वापसी की और मैच को जीतकर ओलंपिक में भारत को पदक दिलाने के दिशा में एक कदम और बढ़ा दिया।

लवलीना ने किया एक पदक पक्का

टोक्यो ओलंपिक में शुक्रवार का दिन महिलाओं के नजरिए से शानदार रहा।  महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने भारत के खाते में एक और मेडल पक्का कर दिया है. उन्होंने 69 किलो वर्ग के क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपे की निएन चिन चेन को 4-1 से मात दी है. लवलीना ने इस जीत के साथ सेमीफाइनल में जगह बना ली है. वहीं, हॉकी में लगातार हार का सामना कर रही महिला टीम ने अपनी पहली जीत दर्ज की। हालांकि तीरंदाजी में भारत को निराशा का सामना करना पड़ा है। वर्ल्ड नंबर वन दीपिका कुमारी महिला व्यक्तिगत का क्वार्टर फाइनल मुकाबला हारकर बाहर हो गई हैं। दीपिका कुमारी कोरिया की सान अन के खिलाफ क्वार्टर फाइनल का मैच 0-6 से हारी हैं. दीपिका ने तीसरे सेट में 7, 8, 9 का स्कोर किया. वहीं, आन सन का निशाना 8, 9, 9 पर लगा

दीपिका कुमारी को ये हार बहुद दर्द देगा. वह दुनिया की नंबर 1 तीरंदाज हैं. दीपिका मेडल का सपना लेकर टोक्यो पहुंची थीं. वह मिक्स्ड टीम इवेंट में भी कोई कमाल नहीं कर सकी थीं. वहां पर हारने के बाद उनके पास महिला व्यक्तिगत में पदक जीतने का मौका था. दीपिका इससे पहले लंदन ओलंपिक में राउंड ऑफ 64 में बाहर हो गई थीं. रियो ओलंपिक में वह अंतिम-16 तक का सफर तय कर पाई थीं.



Find Us on Facebook

Trending News