केन्द्रीय आम बजट को विपक्ष ने कहा गरीब विरोधी, दु:खी है जीतनराम मांझी

केन्द्रीय आम बजट को विपक्ष ने कहा गरीब विरोधी, दु:खी है जीतनराम मांझी

PATNA : लोकसभा में आज केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट पेश किया. इस आम बजट को लेकर अब चर्चा शुरू हो गयी है. राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा यह सरकार किसान और गरीब विरोधी है. इस आम बजट से देश को कोई फायदा होनेवाला नहीं है. इस सरकार के रहते देश का भलाई होने वाला नहीं हैं. डबल इंजन की सरकार के बावजूद बिहार को कुछ नहीं मिल रहा है. यहाँ तक की विशेष राज्य का दर्जा और विशेष पैकेज भी नहीं मिल रहा है. पटना यूनिवर्सिटी को केन्द्रीय विवि का दर्जा नहीं मिल रहा है. 

उन्होंने कहा की लोकसभा में बिहार के 39 सांसद कर क्या रहे हैं. यह बजट किसान और जनविरोधी है. देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया गया है. उन्होंने कहा की यह बजट केवल पूंजीपतियों और उद्योगपतियों के लिए बनाया गया है. वहीँ कांग्रेसी नेता शकील अहमद खान ने केंद्र सरकार के बजट को गरीब विरोधी बजट बताया है. उन्होंने कहा की इससे पहले भी केंद्र की सरकार ने केवल वादा कर जनता को धोखा दिया है. मोदी सरकार केवल बड़े बड़े पूंजीपतियों की मदद करती है. आम जनता को केवल छलने का काम किया जाता है. 

उन्होंने कहा की चुनाव के समय केंद्र का बजट केवल चुनावी बजट है. बंगाल, तमिलनाडु, असम में चुनावी फायदा करने के लिए बजट में लोक लुभावन वादा किया गया है. इस बजट पर केवल विपक्ष ही तंज कस रहा है. इस बजट से एनडीए में शामिल  पूर्व सीएम जीतनराम माँझी भी दुखी है. उन्होंने कहा की निजीकरण से पहले प्राईवेट सेक्टर में आरक्षण का क़ानून बनाना चाहिए था, मांझी ने कहा की ऐसे बजट से आरक्षित वर्ग के लोगों में सरकार के प्रति असंतोष बढ़ेगा. 

पटना से बंदना और रंजन की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News