चिराग पासवान ने नीतीश कुमार से ले लिया अपना कॉल वाला बदला, जदयू अध्यक्ष के फोन को किया इग्नोर

चिराग पासवान ने नीतीश कुमार से ले लिया अपना कॉल वाला बदला, जदयू अध्यक्ष के फोन को किया इग्नोर

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद आज ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि एनडीए में सीट बंटवारे की घोषणा हो जाए. लेकिन इस बीच एनडीए के घटक दल लोजपा और जदयू की बीच तल्खी बढ़ती जा रही है. खबर के मुताबिक लोजपा चीफ चिराग पासवान ने जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार से कॉल का बदला कॉल से लिया है.

नीतीश के फोन को चिराग ने किया इग्नोर
अध्यक्ष चिराग पासवान मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज हैं . ऐसी खबर है कि नाराजगी इस कदर की है कि अब चिराग पासवान नीतीश कुमार से बात तक नहीं करना चाहते हैं.ऐसी चर्चा है कि नीतीश कुमार ने रामविलास पासवान की तबियत का हाल चाल जानने के लिए चिराग पासवान को रविवार को 10 बार कॉल किया लेकिन चिराग पासावान ने जदयू अध्यक्ष के फोन को इग्नोर कर दिया और फोन नहीं उठाया.चार अक्‍टूबर को चिराग पासवान ने पिता और लोजपा के संस्‍थापाक राम विलास पासवान की तबीयत के बारे में ट्वीट कर कहा था कि अचानक देर रात उनके दिल का ऑपरेशन करना पड़ा. जरुरत पड़ने पर एक हफ्ते बाद एक और ऑपरेशन कराना पड़ सकता है. बताया जाता है कि इसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान की तबीयत के बारे में जानने के लिए चिराग को कम-से-कम दस कॉल किए मगर, चिराग ने उनके कॉल रिसीव नहीं किया.  बता दें कि राम विलास पासवान की तबियत खराब हैं और वो अस्पताल में भर्ती हैं.  इस बीच पीएम मोदी नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने कई बार चिराग को फोन कर पिता की तबीयत के बारे में जानकारी ली थी.

कॉल का बदला कॉल से लेने की कोशिश
लोजपा चीफ चिराग पासवान और जदयू के बीच जो रार चल रहा है वो अब किसी से छिपा नहीं है. चिराग पासवान ने कई मौके पर सीधा हमला नीतीश कुमार पर किया है. एक चैनल के इंटरव्यू में चिराग पासवान यह कह भी चुके हैं कि सीएम नीतीश से बिहार के हालात पर बात करने के लिए मैंने कई दफा कॉल किया था लेकिन वो मुझसे बात तक नहीं करते. लेकिन अब यह खबर है कि इस बार चिराग पासवान ने नीतीश के कॉल के इग्ननोर कर अपनी मंशा जता दी है.

सीएम ने कहा था रामविलास की तबियत के बारे में पता नहीं
लोजपा के संस्थापक और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की खराब तबियत को लेकर पहले भी चिराग पासवान लोगों को ट्वीट के जरिए बता चुके हैं. लेकिन एक वक्ता ऐसा था जब सीएम नीतीश कुमार से इस रामविलास पासवान की तबियत पर पूछा गया था तो उन्होंने इसकी जानकारी नहीं होने की बात कही थी. जिसके बाद से लोजपा और जदयू के बीच तल्खी और बढ़ी. अब चिराग पासवान ने भी ऐलान कर दिया है कि वो इस बार चुनाव अपने स्टाइल से लड़ेगी. लोजपा चीफ के अपने अंजाद में चुनाव में उतरने से जदयू को कितना नुकसान होगा या इसका खामियाजा लोजपा को भुगतना पड़ेगा ये तो आने वाले वक्त बताएगा.

Find Us on Facebook

Trending News