कोरोना वैक्सीन की चोरी के बाद जागी चोर की मानवता, लौटाते हुए नोट पर लिखा पता नहीं था...

कोरोना वैक्सीन की चोरी के बाद जागी चोर की मानवता, लौटाते हुए नोट पर लिखा पता नहीं था...

DESK : कोरोना की दूसरी लहर से पूरा देश त्राहिमाम कर रहा है. कही हॉस्पिटल में बेड नहीं है तो कहीं ऑक्सीजन के बिना लोगों की जान जा रही है. उधर लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए वैक्सीन दी जा रही है. इसी बीच शुक्रवार की सुबह हरियाणा के जींद से खबर आई कि यहां के सिविल हॉस्पिटल से कोरोना वैक्‍सीन की डोज चोरी हो गईं है. इस घटना की सूचना मिलते ही अस्‍पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया. लेकिन शाम होते- होते एक बाइक सवार सिविल लाइन थाने के सामने चाय की दुकान पर प्‍लास्टिक बैग में 622 डोज छोड़कर चला गया. चोर ने इसके साथ एक नोट भी रखा था. जिसमें लिखा था- 'मुझे माफ कर दीजिए. पता नहीं था कि इसमें कोरोना वैक्‍सीन है.' इस अजीबोगरीब घटना की पूरे इलाके में जमकर चर्चा हो रही है. 

गौरतलब है कि जींद के सिविल हॉस्पिटल से कोविशील्ड की 1270 और कोवैक्‍सीन की 440 डोज की चोरी सामने आई थी. इसके साथ ही फाइल भी चोरी हो गई. शिकायत मिलने के बाद पुलिस इस मामले की छानबीन में जुट गई थी. पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में दो लोग चोरी करते मिले. जिनकी पहचान का प्रयास किया जा रहा था. पुलिस आगे कुछ जांच करती, इससे पहले ही सिविल लाइन थाने के सामने चाय की दुकान पर चोर इनमें से 622 डोज छोड़कर चला गया. इनमें कोवैक्‍सीन की 440 और कोविशील्‍ड की 182 शीशियां हैं.  अब पुलिस बचे हुए वैक्‍सीन को बरामद करने का प्रयास कर रही है. 

हालाँकि कई लोगों ने इसके पहले अस्पताल कर्मियों पर चोरी की आशंका जाहिर की थी. लेकिन पुलिस की खोजबीन से पहले ही चोर अपनी ईमानदारी का परिचय देते हुए वैक्सीन रखकर चला गया. 

Find Us on Facebook

Trending News