बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

आग की भेंट चढ़ने से बचा नगर थाना, समय पर काबू पा लिया नहीं तो जल जाते तीन सौ वाहन

आग की भेंट चढ़ने से बचा नगर थाना, समय पर काबू पा लिया नहीं तो जल जाते तीन सौ वाहन

AURANGABAD :-  औरंगाबाद नगर थाना आज जलने से बच गया। संयोग यह रहा कि आग पर जल्द ही काबू पा लिया गया नही तो विभिन्न मामलों में पुलिस द्वारा जब्त कर थाना परिसर में खुले में रखे गए करीब 300 दो पहिया एवं चार पहिया वाहन  जलकर खाक हो जाता। 



बताया जाता है कि नगर थाना परिसर के अंदर से होकर ही 11 हजार वोल्ट का बिजली का तार गुजरा है। भयंकर गर्मी के बीच चल रहे लू के थपेड़ों से बिजली का 11 हजार वोल्ट का तार आपस में टकरा कर स्पार्क कर गया और तार भी टूटकर गिर गया। तार की स्पार्किंग से से निकली चिंगारी वही पड़े कूड़े-कचरे के ढ़ेर पर जा गिरी। ढ़ेर पर चिंगारी के गिरते ही उसमें आग लग गयी। आग की लपटों के तेज होने और उससे उठते धुएं पर अचानक से थाना में मौजूद कुछ पुलिसकर्मियों और थाना के बाहर से गुजर लोगो की नजर पड़ी। लोग आनन-फानन में आग बुझाने दौड़ पड़े। 



लोटा-बाल्टी में पानी भरकर पहुंचे लोग

आग बुझाने के लिए जिसके हाथ में जो कुछ लोटा या बाल्टी मिली, सभी उसमें   जहां-तहां से पानी लेकर आग बुझाने दौड़ पड़े। इस दौरान थाना के बगल में स्थित एक कोयला दुकान वाले ने आग से कोयले को जलने से बचाने के लिए अपने घर की टंकी से पाईप से पानी दी और काफी मशक्कत कर आग पर काबू पा लिया गया। इस दौरान आग बुझाने से पहले बिजली विभाग को सूचना देकर विद्युत सप्लाई भी बंद कराई गई। तब जाकर लोग आग बुझाने में जुटे और आग पर काबू पाया गया।



खुले में रखी थी तीन सौ जब्त गाड़ियां

 यदि आग पर जल्दी में काबू नही पाया जाता तो आग के चपेट में पास में थाना परिसर में ही खुले मैदान में रखे विभिन्न मामलों में जब्त करीब तीन सौ दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों में लग जाती। तब स्थिति कितनी भयावह होती, वह कल्पना से परे होती और आग थाना परिसर में स्थित भवनों में भी लग सकती थी। खैर संयोग अच्छा रहा कि एक बड़ा हादसा टल गया लेकिन इस छोटी सी अगलगी की घटना ने नगर थाना की व्यवस्था की भी पोल खोल कर रख दी। 



गौरतलब है कि औरंगाबाद के सभी थानों में दमकल गाड़ी उपलब्ध है लेकिन औरंगाबाद नगर थाना में एक अदद दमकल उपलब्ध नही है। यदि दमकल मौजूद रहता तो उसका इस्तेमाल इस अगलगी की घटना में किया जाता और आग बुझाने के लिए इस तरह की परेशानी झेलने के बजाय आग पर सुविधाजनक तरीके से काबू पा लिया जाता। 



औरंगाबाद नगर थानाध्यक्ष सतीश बिहारी शरण ने बताया कि शॉर्ट सर्किट से आग लगी थी। आग पर काबू पा लिया गया है। आग बुझाने में आसपास के लोगों ने सुझबुझ का परिचय दिया और सराहनीय सहयोग किया है। अगलगी में जान माल की कोई क्षति नही हुई है। कोई खास नुकसान भी नही हुआ है।


Suggested News