विश्वेश्वरैया भवन में लगी आग जायजा लेने पहुंचे सीएम नीतीश, 10 घंटे तक धू-धूकर जलता रहा बिहार का सबसे बड़ा प्रशासनिक भवन

विश्वेश्वरैया भवन में लगी आग जायजा लेने पहुंचे सीएम नीतीश, 10 घंटे तक धू-धूकर जलता रहा बिहार का सबसे बड़ा प्रशासनिक भवन

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को विश्वेश्वरैया भवन में लगी आग का जायजा लिया. वे शाम करीब साढ़े पांच बजे वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विश्वेश्वरैया भवन पहुंचे और वहां आग से हुए नुकसान का जायजा लिया. सीएम ने अधिकारियों से आग लगने के कारणों को जाना और आग बुझाने में काफी समय लगने के कारणों से अवगत हुए. विश्वेश्वरैया भवन में बुधवार सुबह करीब साढ़े सात बजे आग लगी थी लेकिन 10 घंटे से अधिक समय बीत जाने के बाद भी भवन से धुआं निकलता दिखा. विश्वेश्वरैया भवन में राज्य के आधा दर्जन विभागों का कार्यालय मौजूद है. 

विश्वेश्वरैया भवन में लगी भीषण आग को बुझाने और राहत एवं बचाव कार्य को तेजी से चलाने के लिए एनडीआरएफ की टीम की मदद ली जा रही है। बुधवार सुबह लगी आग को नियंत्रित करने के लिए काफी मशक्कत की जा रही है। पटना के जिलाधिकारी डीएम चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि भवन में रेनोवेशन का काम चल रहा था। उन्होंने कहा कि शॉर्ट शर्किट से आग लगने की बात सामने आ रही है। आग का फैलाव ज्‍यादा होने पर एनडीआरएफ की टीम को मौके पर बुला लिया गया  है। इसके अलावा पटना एयरपोर्ट से फायर इंजन भी मंगवाया लिया गया है। आग का सबसे ज्यादा असर तीसरी से पांचवीं मंजि‍ल में हुआ है।

उन्होंने कहा कि हमारी पूरी तैयारी आग बुझाने पर है। आग किन कारणों से लगी के सवाल पर उन्होंने कहा कि फ़िलहाल शार्ट शर्किट से आग लगने की बात सामने आई है। विश्वेश्वरैया भवन में सुबह 7:30 के आसपास पांचवीं मंजिल पर आग शुरू हुई थी। जैसे ही सूचना मिली फायर ब्रिगेड को भेजा गया। आग पर काबू नहीं हो पा रहा था, एयरपोर्ट से भी फायर इंजन मंगवाया है। NDRF की टीम को भी बुलाया है।  सातवीं मंजिल पर 2 बच्चे फंसे हुए थे, जिन्हें निकाल लिया गया है। आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं। प्रयास है कि आग को जल्द से जल्द काबू कर लें। प्रथम दृष्टया बताया जा रहा है कि शॉर्ट शर्किट से आग लगी है, ये जांच का विषय है।




Find Us on Facebook

Trending News