67वीं BPSC के प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट जारी होते ही विवाद शुरू, कट ऑफ पर उठे सवाल

67वीं BPSC के प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट जारी होते ही विवाद शुरू, कट ऑफ पर उठे सवाल

PATNA : 67वीं बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम जारी हुए अभी महज 12 घंटे ही गुजरे हैं, लेकिन इसके साथ ही रिजल्ट को लेकर विवाद शुरू हो गया है। इस विवाद का कारण  आरक्षण वाले तीन कैटगरी के अभ्यर्थियों का कट ऑफ एक होना।  बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 67वीं प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम में तीन कैटगरी में एक समान अंक होने से अभ्यर्थी कटआफ पर सवाल उठा रहे हैं। 

अभ्यर्थियों का मानना है कि आरक्षण में अलग-अलग कोटि होने के बाद भी एक समान कटआफ कैसे हुए। अभ्यर्थियों ने कहा कि 67वीं बीपीएससी के जारी परिणाम में तीन कोटि में अभ्यर्थियों के कटआफ एक समान रहे। इसमें आर्थिक रूप से पिछड़ा कोटि (ईडब्ल्यूएस), अत्यंत पिछड़ा वर्ग (ईबीसी) एवं पिछड़ा वर्ग (बीसी) वर्ग के पुरुष कोटि के अभ्यर्थियों का एक समान कटआफ 109 अंक है। सामान्य का कटआफ 113 है। 

बेवजह का उठा रहे सवाल

वहीं अभ्यर्थियों के सवाल पर आयोग के सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने बताया कि अभ्यर्थियों की संख्या व प्राप्त अंक के अनुसार यह कटआफ है। संबंधित कैटगरी में अंतिम अभ्यर्थी को प्राप्त अंक ही संबंधित कैटगरी के लिए कटआफ निर्धारित होता है। ऐसे में कटआफ को लेकर किसी प्रकार का सवाल वाजिब नहीं है। 

न्यूनतम अंक भी प्राप्त नहीं कर सके 45 हजार अभ्यर्थी

67वीं परीक्षा में 45 हजार 667 ऐसे अभ्यर्थी हैं, जो न्यूनतम अंक भी प्राप्त नहीं कर सके। नियमानुसार सामान्य व ईडब्ल्यूएस के अभ्यर्थियों को 150 प्रश्नों में 60, पिछड़ा वर्ग पुरुष को 54.75, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के पुरुष को 51, एससी-एसटी, महिला एवं दिव्यांग अभ्यर्थियों के लिए 48 अंक न्यूनतम अर्हतांक निर्धारित है, लेकिन यह अंक प्राप्त नहीं होने से वह मेधा सूची से बाहर हो गए।

बीपीएससी ने गुरुवार को 67वीं प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया। 67वीं पुनर्परीक्षा के लिए छह लाख एक हजार 69 उम्मीदवारों को प्रवेश पत्र जारी किया गया था। 11 हजार छह सौ सात अभ्यर्थी सफल हुए हैं।  आयोग के सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने बताया कि मुख्य परीक्षा 29 दिसंबर को आयोजित की जाएगी। इसके लिए विज्ञापन शुक्रवार को जारी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों को ओएमआर शीट तीन-चार दिनों में उपलब्ध रहेगी। इसके लिए अभ्यर्थी अपनी लागिंग के माध्यम से इसे प्राप्त कर सकते हैं।


Find Us on Facebook

Trending News