दरभंगा हर दृष्टिकोण से बिहार की उप राजधानी बनने की पात्रता रखता है: विद्यापति सेवा संस्थान

दरभंगा हर दृष्टिकोण से बिहार की उप राजधानी बनने की पात्रता रखता है: विद्यापति सेवा संस्थान

DARBHANGA : कांग्रेस पार्टी के विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्र द्वारा मंगलवार को दरभंगा को बिहार की उप राजधानी बनाने संबंधित लाये गये गैर सरकारी संकल्प का विद्यापति सेवा संस्थान ने स्वागत किया है। संस्थान के महासचिव डॉ. बैद्यनाथ चौधरी बैजू ने प्रेमचंद्र मिश्र के प्रति आभार जताते कहा कि अतीत में दरभंगा महाराज का मुख्यालय रहा दरभंगा हर दृष्टिकोण से  बिहार की उप राजधानी बनने की पात्रता रखता है। ऐसी स्थिति में सरकार को बिना किसी आनाकानी के दरभंगा को सूबे की उप राजधानी बनाने का ऐलान करना चाहिए. इससे मिथिला के विकास को नई गति मिलेगी। 

डॉ. बैजू ने कहा कि मिथिला के सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक, राजनैतिक एवं भाषाई आजादी के बिना समग्र मिथिला क्षेत्र का विकास असंभव है। सड़क से संसद तक संघर्ष जारी है और यह आंदोलन पृथक मिथिला राज्य के गठन तक अनवरत जारी रहेगा। उन्होंने बिहार सरकार से  पृथक मिथिला राज्य के लिये विधानसभा में जल्द प्रस्ताव पारित करने का अनुरोध करते हुए आमलोगों का आह्वान किया कि जब तक हम पूर्ण रूप से संगठित नहीं होंगे। हमें मिथिला राज्य नहीं मिलेगा। यह किसी एक व्यक्ति या संस्था की मांग नहीं है। यह संपूर्ण मिथिलावासियों की बहुत पुरानी मांग है जिसके लिए हम लगातार संघर्ष करते आ रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि मिथिला के सभी जनप्रतिनिधियों को इसके लिए संसद एवं विधानमंडल में मिलकर आवाज उठानी होगी। तभी सरकार पृथक मिथिला राज्य के गठन को स्वीकृति देगी। डॉ बैजू ने कहा कि यह हमारा अधिकार है और इसे हम हर हाल में लड़कर हासिल करेंगे।

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News