दरभंगा के बीजेपी सांसद गोपालजी ठाकुर ने किया ऐलान, कहा एम्स को लेकर अब याचना नहीं रण होगा

दरभंगा के बीजेपी सांसद गोपालजी ठाकुर ने किया ऐलान, कहा एम्स को लेकर अब याचना नहीं रण होगा

DARBHANGA : सोमवार को भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य सह दरभंगा सांसद डॉ गोपाल जी ठाकुर ने बिहार सरकार पर बेवजह उत्पन्न किए जा रहे व्यवधान एवं अटकाने, लटकाने तथा भटकाने की मंशा का आरोप लगाया है। इसके मद्देनजर आगामी 24 जनवरी को दरभंगा में भाजपा द्वारा उपवास एवं धरना कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। जिसके लिए आज सांसद ने कर्पूरी चौक पर स्थल का जायजा लिया।

 

उन्होंने कहा कि 24 जनवरी को भारत सरकार के केंद्रीय राज्य मंत्री एवं बक्सर सांसद अश्विनी चौबे एवं स्थानीय सांसद डॉक्टर गोपाल जी ठाकुर उपवास पर रहेंगे।दरभंगा एम्स निर्माण में बिहार सरकार द्वारा सोची समझी साजिश के तहत अड़चन पैदा की जा रही है, जिसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सासंद ने कहा कि इस विशाल धरना कार्यक्रम में बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद डॉ संजय जायसवाल भी सम्मिलित होंगे। उन्होंने कहा कि बिहार की गैरजिम्मेदार सरकार जिस प्रकार से मिथिला के करोड़ों लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने की मंशा से दरभंगा एम्स निर्माण में बाधा उत्पन्न कर रही है। उससे सभी लोगों के मन में काफी आक्रोश व्याप्त है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दरभंगा एम्स निर्माण को स्वीकृति दिए दो वर्ष से अधिक बीत जाने के बावजूद बिहार सरकार द्वारा भौतिक रूप से अब तक जमीन उपलब्ध नहीं कराए जाने की वजह से एम्स निर्माण बाधित है। 

उन्होंने कहा की बीते कुछ माह पहले जिला प्रशासन द्वारा प्रस्तावित डीएमसीएच की 81 एकड़ भूमि दरभंगा एम्स को कागज पर हस्तांतरित किया गया था,जहां मिट्टीकरण एवं पुराने मकानों के ध्वस्तीकरण कार्य भी प्रारंभ हुआ था। जिससे आम लोगों में एम्स बनने का उम्मीद जागृत हुआ था। परन्तु आए दिन बिहार सरकार के मुख्यमंत्री एवं महाठगबंधन के नेता द्वारा जानबूझकर दिए जा रहे एम्स विरोधी बयान एवं जिला प्रशासन की शिथिलता के कारण अब तक 81 एकड़ भूमि को ग्रीन फील्ड नहीं किया जा सका है,जिससे एम्स निर्माण में बाधा उत्पन्न हो रहा है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी समाधान यात्रा में चंद लोगों की बातों में आकर समस्या समाधान के बदले समस्या उत्पन करके चले गए और स्थल परिवर्तन का नया शिगूफा छोड़कर चले गए। जिससे यहां उहापोह की स्थिति बनी हुई है।

सांसद ने कहा कि चूंकि एम्स जन स्वास्थ्य से जुड़ा सबसे बड़ा संस्थान है और डीएमसीएच की हालत एवं बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था किसी से छुपी हुई नही है ऐसे में मिथिला के करोड़ों लोगों को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार,अपने कैबिनेट द्वारा स्वीकृत डीएमसीएच की 200 एकड़ जमीन जल्द से जल्द एम्स को हस्तांतरित कर दे एवं डीएमसीएच की 73 एकड़ भूमि यथाशीघ्र अतिक्रमण मुक्त किया जाए। सांसद ने कहा कि एम्स निर्माण में हो रहे विलंब से जनता में काफी आक्रोश व्याप्त है और आने वाले दिनों में यह जनाक्रोश काफी प्रतिकार करेगा। सासंद ने भाजपा कार्यकर्ता सहित आम जनों से आग्रह करते हुए कहा कि अधिक से अधिक संख्या में पहुँचकर इस कार्यक्रम को सफल बनावें। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष जीवछ सहनी, ज्योति कृष्ण झा लवली,कृष्ण भगवान झा, प्रेम कुमार मिश्रा रिंकू, देवेंद्र झा, राजेश रंजन, संजीव गुप्ता,मुकुंद चौधरी, सोनू ठाकुर, रामकुमार ठाकुर जी सहित कई लोग उपस्थित थे।

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News