आधी रात को एक्शन में दिखे DGP गुप्तेश्वर पांडेय, पटना के दो थानेदारों पर गिरी गाज

PATNA : बिहार के नए पुलिस कप्तान गुप्तेश्वर पांडेय के लिए लॉ एंड ऑर्डर को दुरुस्त करना सबसे बड़ी चुनौती है। डीजीपी का पद संभालने के बाद गुप्तेश्वर पांडेय ने एलान कर दिया है कि वह किसी भी मामले में ढीले-ढाले पुलिसकर्मियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। अगर पुलिसकर्मी ड्यूटी के मामले में लापरवाह पाए गए तो वह उन्हें बख्शने वाले नहीं।

बीती रात डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय एक्शन में दिखे। उन्होंने पटना के दो थानों में पहुंचकर पुलिसिंग का जायजा लिया। गुप्तेश्वर पांडेय देर रात तकरीबन 1 बजे राजधानी के एसके पुरी थाना और उसके बाद गर्दनीबाग पहुंचे। डीजीपी के अचानक थाने में पहुंचने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पटना पुलिस के बड़े अधिकारी भी थाने पहुंचे। डीजीपी की तरफ से की गई अचानक छापेमारी में थाने के अंदर कई गड़बड़ियां मिलीं। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने इन गड़बड़ियों को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई भी कर दी।

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने पहले ही दिन के एक्शन में एसके पुरी और गर्दनीबाग के थानेदारों को सस्पेंड कर दिया। इसके अलावा उन्होंने ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में दो अन्य पुलिसकर्मियों को भी निलंबित किया। लगभग एक घंटे तक डीजीपी दोनों थानों का निरीक्षण करते रहे और अपनी कार्रवाई से उन्होंने पुलिसकर्मियों को यह मैसेज भी दे दिया की वर्दी की ड्यूटी में लापरवाही उन्हें बर्दाश्त नहीं होगी। लॉ एंड ऑर्डर हर हाल में ठीक करना उनके लिए बड़ी चुनौती है और पुलिस के छोटे से लेकर बड़े अधिकारियों तक को यह बात समझ लेनी चाहिए।

Find Us on Facebook

Trending News