भाजपा सांसद के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने वाले आइएएस अफसर के खिलाफ होगी अनुशासनात्मक कार्रवाई

भाजपा सांसद के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने वाले आइएएस अफसर के खिलाफ होगी अनुशासनात्मक कार्रवाई

रांची. भाजपा के एक सांसद के खिलाफ दुर्भावना से प्रेरित होकर एक ही दिन में पांच एफआइआर दर्ज कराने वाले आइएएस अफसर के खिलाफ चुनाव आयोग ने अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. झारखंड के गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ इसी साल अप्रैल 2021 में हुए मधुपुर विधानसभा उपचुनाव के दौरान देवघर के डीसी सह-डीईओ मंजूनाथ भजंत्री ने एक ही दिन में पांच मामले दर्ज कराए थे. 

इसके खिलाफ दुबे ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी. बाद में आयोग ने सांसद निशिकांत दुबे और आइएएस अधिकारी मंजूनाथ भजंत्री को सुना और पूरे मामले की जांच पड़ताल कराई. इसमें आयोग ने माना है कि मंजूनाथ भजंत्री ने भाजपा सांसद के खिलाफ दुर्भावना से प्रेरित होकर कार्रवाई की थी. अब आयोग ने डीसी सह-डीईओ भजंत्री को पद से हटाने के निर्देश दिए हैं. साथ ही केंद्र और राज्य सरकार को आइएएस अधिकारी के खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के लिए भी कहा गया है.

दरअसल अप्रैल 2021 में हुए मधुपुर विधानसभा उपचुनाव के दौरान भजंत्री की कार्य पद्धति से नाराज होकर सांसद दुबे ने उन पर एक पार्टी के कार्यकर्ता की तरह काम करने का आरोप लगाया था. बाद में भजंत्री को डीइओ के पद से हटा दिया गया था. बावजूद इसके राज्य सरकार ने भजंत्री को फिर से देवघर डीसी सह-डीईओ बना दिया था. दोबारा पद सँभालने के बाद उन्होंने सांसद के खिलाफ एक दिन में पांच मामले दर्ज करा दिए थे. इसका सांसद ने विरोध जताया और उनकी शिकायत चुनाव आयोग से कर दी. अब आयोग ने अपने फैसले में अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने कहा है. 

Find Us on Facebook

Trending News