बिना टिकट यात्रा पकड़े गए बिजली विभाग के इंजिनियर, लगा जुर्माना तो कर दी रेलवे स्टेशन की बत्ती गुल

बिना टिकट यात्रा पकड़े गए बिजली विभाग के इंजिनियर, लगा जुर्माना तो कर दी रेलवे स्टेशन की बत्ती गुल

BUDAUN : बिना टिकट ट्रेन में सफर कर रहे पावर कॉरपोरेशन के अवर अभियंता चेकिंग के दौरान बदायूं रेलव स्टेशन पर टीटीई ने पकड़ लिया और काफी हुज्जत के बाद आरपीएफ की मौजूदगी में जुर्माना किया गया। इस घटना के कुछ देर बाद ही पूरे स्टेशन परिसर की बत्ती गुल हो गई। अब चर्चा है कि जुर्माने से नाराज होकर जेई ने ही स्टेशन की बिजली सप्लाई बंद करवा दी थी। अब मामला डीआरएम इज्जतनगर तक पहुंच गया है। हालांकि रेलवे के अफसर इसे इत्तेफाक बता रहे हैं और जेई के खिलाफ किसी प्रकार की शिकायत नहीं की गयी है।

मामले में बताया गया कि बरेली से कासगंज जाने वाली ट्रेन बुधवार रात 10:45 बजे यहां पहुंची थी। जबकि 10:49 बजे यह ट्रेन छूटनी थी। ट्रेन आने पर टीटीई पीके शुक्ल रात में चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान पॉवर कॉरपोरेशन में तैनात एक अवर अभियंता ट्रेन से तीन अन्य साथियों के साथ उतरकर स्टेशन के मुख्यद्वार की ओर बढ़े तो टीटीई ने उनसे टिकट मांगा। टिकट न होने की बात कहने पर जुर्माने की रसीद कटाने की बात कही गई। इस पर अवर अभियंता बिगड़ गये और जुर्माना न देने की बात कही। मामला तूल पकड़ा तो आरपीएफ मौके पर बुला ली गई। इसके बाद में अवर अभियंता समेत चारों पर जुर्माना डाला गया।रेलवे के प्रावधान के मुताबिक चारों लोगों पर कुल 1120 रुपये का जुर्माना बना। इतने रुपये लेकर टीटीई ने जेई को रसीद थमाई और वहां से जाने दिया। 

कुछ देर बाद स्टेशन की बिजली कटी

इस घटना के कुछ देर बाद रेलवे स्टेशन समेत कॉलोनी की बत्ती गुल हो गयी। ट्रेन आने पर उससे उतरी सवारियों में अंधेरे में धक्का-मुक्की होने लगी। वहीं बिजली गुल होने का पहले कारण ट्रांसफॉर्मर जलना बताया गया, लेकिन जब सेक्शन विभाग ने जांच की तो पाया गया कि ट्रांसफार्मर की आउटपुट लीड निकली पड़ी थीं। इसे लगाते ही दूसरे दिन गुरुवार दिन में लगभग 12 बजे सप्लाई जुड़ गयी। इस पर रेलवे कॉलोनी में रहने वाले लगभग पांच सौ लोगों ने राहत की सांस ली। इस दौरान 12 घंटे से भी अधिक समय तक स्टेशन पर जेनरेटर से ही काम चलाया गया।

हालांकि पॉवर कारपोरेशन के जिम्मेदार ऐसे मामले से अनभिज्ञता जता रहे हैं। रेलवे के अफसर भी इसे इत्तेफाक करार दे रहे हैं। अफसरों का कहना है कि ट्रांसफार्मर की लीड निकलने के कारण सप्लाई चली गई थी। जेई पर जुर्माना डालने के बाद सप्लाई गुल करने का मामला संज्ञान में नहीं आया है। मेरे पास कोई शिकायत नहीं आयी।


Find Us on Facebook

Trending News