शर्मनाक : दुष्कर्म पीड़ित तीन साल की मासूम को अस्पताल में नहीं मिला इलाज, कड़कड़ाती ठंड में तड़पती रही रात भर

शर्मनाक : दुष्कर्म पीड़ित तीन साल की मासूम को अस्पताल में नहीं मिला इलाज, कड़कड़ाती ठंड में तड़पती रही रात भर

मोतिहारी... पहले तीन साल की मासूम के साथ दुष्कर्म हुआ और ऊपर से इलाज के लिए कड़कड़ाती ठंड में रात भर अस्पताल में मौजूद होने के बाद भी इलाज नहीं मिला। यह शर्मनाक घटना मोतिहारी के सदर अस्पताल की है। अस्पतालों की दयनीय हालत को लेकर एक तरफ तो बड़े-बड़े आदेश दिए जाते हैं, लेकिन उन्हीं अस्पतालों में प्रबंधन की ओर से मानवीय संवेदनाओं को ताक पर रख दिया जाता है। ताजा मामला मोतिहारी सदर अस्पताल का है।

मोतिहारी सदर अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आयी है। दुष्कर्म से पीड़ित तीन वर्षीय बच्ची को लेकर परिजन तड़पते रह गए, लेकिन अस्पताल प्रबंधन की मानवता तक नहीं जगी। अस्पताल प्रबंधन रात्रि में उक्त बच्ची के इलाज करने से इंकार कर दिया गया। परिजन भगवान पर भरोसा कर रात बिताए। वहीं, जब सुबह में सूचना पर बंजरिया पुलिस के पहुचने व हस्तछेप के बाद इलाज शुरू किया गया।

बंजरिया थाना क्षेत्र के एक गांव में तीन वर्षीय बच्ची के साथ नाबालिग बच्चा के द्वारा दुष्कर्म की घटना को शनिवार देर शाम अंजाम दिया गया। परिजन पीड़ित बच्ची को लेकर आदापुर पीएचसी पहुंचे। जहां प्राथमिक इलाज के बाद गंभीर हालत को देखते हुए डाक्टर द्वारा दस बजे रात्रि में सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। परिजनों ने बताया कि बच्ची को लेकर 11 बजे रात्रि सदर अस्पताल पहुंचे। अस्पताल में उपस्थित डाक्टर व नर्स द्वारा इलाज करने के इंकार कर दिया गया। परिजन गुहार लगाते रह गए, लेकिन कोई सुनने वाला नही था। रात भर अस्ताल में भगवान भरोसे कराहते बच्ची को लेकर अस्पताल में परिजन रह गए, लेकिन इलाज नही हुआ।


सुबह सूचना मिलते ही बंजरिया थाना प्रभारी के अस्पताल पहुंचने के बाद पीड़ित का इलाज शुरू किया गया। इलाज नहीं होने को लेकर परिजन आक्रोशित हुए थे, लेकिन थाना प्रभारी के समझाने के बाद इलाज शुरू हुआ। हलाकि अस्पताल प्रबंधन ने आरोप को निराधार बताया है।

Find Us on Facebook

Trending News