ENGINEER’S DAY: जदयू कार्यालय से हारकर राजद कार्यालय पहुंचे अभियंता, जगदानंद सिंह ने दिखाई दरियादिली और दिया आश्वासन

ENGINEER’S DAY: जदयू कार्यालय से हारकर राजद कार्यालय पहुंचे अभियंता, जगदानंद सिंह ने दिखाई दरियादिली और दिया आश्वासन

PATNA : बिहार में बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा है। आप इसे इस बात से ही समझ सकते हैं कि साल 2019 में जो विधानसभा चुनाव हुए थे, उसमें सभी पार्टियों ने इस मुद्दे को उठाया था और उसी के आधार पर वोट मांगे थे। हालांकि यह बात पुरानी है। ताजा मामला यह है कि अभियंता दिवस के दिन बिहार के युवा इंजीनियरों को सड़क पर उतरकर बहाली के लिए गुहार लगाने पड़ रहा है।

नौकरी नहीं मिलने पर लगाए मुर्दाबाद के नारे

सभी युवा अभियंता बारिश के बीच जदयू कार्यालय पहुंचे और वहां पहुंचकर ‘मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुर्दाबाद’ के नारे लगाने लगे। जिस पर उनके सामने ही कार्यालय का गेट बंद कर दिया गया और पुलिस प्रशासन पहुंच गई। पुलिस द्वारा उन्हें वहां से हटाए जाने के बाद बारिश में ही सभी राजद कार्यालय पहुंचे और कार्यालय के बाहर पहुंचकर ‘तेजस्वी यादव जिंदाबाद’ और ‘बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मुर्दाबाद’ के नारे लगाने लगे। हल्ला हंगामा सुनकर राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह बाहर आए और सभी अभियंताओं को कार्यालय के अंदर बुलाया।

जगदानंद सिंह ने सुनी युवाओं की गुहार

राजद प्रदेश अध्यक्ष ने मानवता का परिचय देते हुए सभी अभियंताओं को बारिश से बचने की जगह दी और उन्हें प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हॉल में बिठाया। इसके बाद आराम से उनसे बातचीत की और उन तमाम लोगों को आश्वासन दिया। अभियंताओं ने अपने साथ हो रहे अत्याचार और आज के पूरे प्रकरण का ब्यौरा जगदानंद सिंह को दिया। जिसे सुनकर उन्होंने युवाओं को आश्वासन दिया कि उनकी मांगों पर हम जल्द से जल्द विचार करेंगे और मुख्यमंत्री से इसपर वार्ता करेंगे।

नेता प्रतिपक्ष ने सीएम के खिलाफ खोला मोर्चा

इनसब के बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी राजद कार्यालय पहुंचे और वहां का हाल देखा। उन्होनें भी युवाओं की समस्या सुनी। जिसके बाद कहा कि हमारा तो मुद्दा ही चुनाव के वक्त यही था, लेकिन हम फिर भी सरकार से सवाल करेंगे और पूछेंगे जूनियर इंजीनियर अपनी मांगों को लेकर क्या और क्यों प्रदर्शन कर रहे थे? तेजस्वी यादव ने उनको आश्वासन भी दिया है। उन्होनें कहा कि हम सरकार को पत्र लिखेंगे। जब शीतकालीन सत्र चलेगा, उस वक्त भी इस मुद्दे को उठाएंगे। साथ ही साथ अपने पार्टी में भी विमर्श करेंगे कि किस तरीके से आप लोगों की लड़ाई को आधे किस ढंग से और लड़ा जाए।

Find Us on Facebook

Trending News